Wednesday , July 26 2017
Home / International / अमेरिका की कार्रवाई आतंकवाद के नहीं, अफगानिस्तानियों के खिलाफ है: हामिद करजई

अमेरिका की कार्रवाई आतंकवाद के नहीं, अफगानिस्तानियों के खिलाफ है: हामिद करजई

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति हामिद करजई ने अमेरिका की तरफ से कथित तौर पर इस्लामिक स्टेट (आईएस) को निशाना बनाकर गिराए गए गैर-परमाणु बम GBU-43/B की कड़े शब्दों में निंदा की है। उन्होंने कहा है कि अमेरिकी सेना की तरफ से किए गए इस घातक हमले की वे कड़े शब्दों में निंदा करते हैं।

राष्ट्रपति करजई ने कहा कि यह कार्रवायी आतंकवाद के खिलाफ नहीं, बल्कि अफगानिस्तानियों के खिलाफ एक अमानवीय हमला है। उन्होंने कहा कि अमेरिकी सेना अफगानिस्तान की जमीन का दुरुपयोग कर रही है। अमेरिका यहां पर आकर अपने आधुनिक और घातक हथियारों का परीक्षण कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह बम अफगानिस्तानियों पर गिराया गया है। अब अमेरिका अपनी इस करतूत को बंद करे।

गौरतलब है कि गुरुवार को अमेरिका ने अफगानिस्तान के पूर्वी प्रांत नांगरहार में आईएसआईएस के ठिकानों को तबाह करने के नाम पर दुनिया के सबसे बड़े बम GBU-43/B को गिराया। इस हमले के बाद इस इलके में 32 किलोमीटर दूर तक धुआं और बारूद का गंध फैल गया।

बताया जाता है कि यह बम जिस इलाके में गिरता है उसके आसपास का डेढ़ सौ किलोमीटर का इलाका तबाह और 300 मीटर चौड़ा गड्ढा हो जाता है। बता दें कि अफगानिस्तान के नानागढ़ प्रोविन्स के जिस अचिन जिले में बम गिराया गया, वहां से पाकिस्तान की तोरहाम बॉर्डर की दूरी महज 60 किमी की है।

TOPPOPULARRECENT