Thursday , September 21 2017
Home / Featured News / AIIMS में रैन बसेरों के इंतेज़ाम के लिए सिसौदिया ने की नड्डा से दरख्वास्त

AIIMS में रैन बसेरों के इंतेज़ाम के लिए सिसौदिया ने की नड्डा से दरख्वास्त

image

नई दिल्ली : नायब वज़ीर आला मनीष सिसौदिया ने मरकज़ी वज़ीर सेहत जे पी नड्डा से दरख्वास्त की है कि, AIIMS काम्प्लेक्स में मरीज़ों और उनके अहले खाना के लिए रैन बसेरों का इंतेज़ाम किया जाए |

जनाब नड्डा को लिखे ख़त में, जनाब सिसौदिया ने कहा है की इंस्टीट्यूट के अहाते में मौजूद रैन बसेरे काफ़ी नहीं हैं ,ऐसे में मरीज़ और उनके खानदान के अराकीन AIIMS के बाहर रात गुज़ारते हैं |

“AIIMS में आने वाले कई मरीज़ों को उनके रिश्तेदारों के साथ अस्पताल से बाहर रात गुज़ारने के लिए मजबूर किया जाता है | इंस्टीट्यूट के अहाते में मौजूद रैन बसेरे काफ़ी नहीं होने की वजह से लोगों को मजबूरी में बस स्टैंड और मेट्रो स्टेशन पर रात गुज़ारनी पडती है” |

सिसौदिया ने कहा कि, “आप जानते हैं कि ये लोग मुल्क के दूर दराज़ इलाक़ों से इलाज के लिए आते हैं,इनके पास होटल या लॉज के खर्च के लिए रक़म नहीं होती है | नया शहर होने की वजह से इन लोगों को रैन बसेरों के बारे में भी कोई मालूमात नहीं होती है | इस हालत में इनके पास AIIMS के बाहर रात गुज़ारने के अलावा कोई चाराह नहीं होता है” |

उन्होंने अपने ख़त में कहा कि, “इंसानियत के नाते AIIMS के अहाते में रैन बसेरों का इन्तेज़ामात किया जायें, जिससे कि मरीज़ और उनके रिश्तेदार, बस स्टैंड और मेट्रो स्टेशन पर रात न गुज़ारें”|

सिसौदिया ने इस सिलसिले में दिल्ली हुकूमत की तरफ़ से हर तरह से तआवुन का यक़ीन दिलाया है |

उन्होंने कहा कि, उनकी हुकूमत इस बात की कोशिश कर रही है कि, इस मौसम सरमा के दौरान कोई भी खुले में रात न गुज़ारे |

उन्होंने कहा कि, दिल्ली हुकूमत ने बेघर अफ़राद के लिए 19,000 रैन बसेरों का इंतेज़ाम किया है |

इसके अलावा, इस मौसम सरमा के दौरान बेघर अफ़राद की हिफाज़त के लिए मोबाइल बेस्ड ऐप आग़ाज़ किया है| सारफ़ीन ऐप डाउनलोड कर के इस ऐप पर फ़ोटो पोस्ट करके फोन के जरिए रेस्क्यू आपरेशन की शुरुआत कर सकते हैं|

TOPPOPULARRECENT