Monday , September 25 2017
Home / Uttar Pradesh / लखनऊ कोर्ट में पेश हुए अमीक जामेई, गौरक्षकों का विरोध करने पर योगी सरकार ने जेल में डाला था

लखनऊ कोर्ट में पेश हुए अमीक जामेई, गौरक्षकों का विरोध करने पर योगी सरकार ने जेल में डाला था

बीते दिनों गौरक्षकों के ख़िलाफ़ तिरंगा मार्च और भीम आर्मी के चीफ़ चन्द्रशेखर की रिहाई के लिए आन्दोलन छेड़ने वाले 22 बड़े युवा नेताओ को अगले 6 महीने तक कोर्ट के पेश होते रहना है।

लोकतांत्रिक तरीके से विरोध करने पर इन नेताओं को योगी सरकार ने तीन दिन जेल में भी डाल दिया था।

अमीक जामेई इन दिनों दलित, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों को एकजुट करने में लगे हुए हैं और प्रदेश भर का दौरा कर रहे हैं।

इस मामले पर अमीक जामेई ने कहा है कि मुसलमान, दलित और पिछड़ों को डरने की ज़रूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि 85% लोग एक दिन दमन और तानाशाही के ख़िलाफ़ लड़ाई ज़रूर जीतेंगे।

उन्होंने कहा कि हम सरकार से मांग है कि जल्द से जल्द गौआतंकियों को रोकने के लिए कानून बनाया जाए और सरकार तुरंत चाद्रशेखर आज़ाद को रिहा करे। उन्होंने कहा कि अगर कानून के राज और इन्साफ के लिए जेल भरनी पड़े तो देश के युवा इसके लिए तैयार है।

 

TOPPOPULARRECENT