Friday , July 21 2017
Home / Politics / अय्यूब पंडित की हत्या आतंकी घटना है तो अख़लाक,जुनैद की हत्या आतंकी घटना क्यों नहीं ? – आमिर हैदर रिज़वी

अय्यूब पंडित की हत्या आतंकी घटना है तो अख़लाक,जुनैद की हत्या आतंकी घटना क्यों नहीं ? – आमिर हैदर रिज़वी

गौरक्षा के नाम पर गौआतंकियों की दहशत लगातार देश में बढ़ रही है । मॉब लिंचिंग की घटनाएं भी लगातार सामने आ रही हैं । देश के बिगड़ते हालात पर कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के प्रवक्ता आमिर हैदर रिज़वी ने बीजेपी और तथाकथित राष्ट्रवादियों पर जमकर निशाना साधा है ।

कश्मीर में पुलिस अधिकारी मोहम्मद अय्यूब पंडित की हत्या को लेकर आमिर हैदर रिज़वी ने कहाकि अय्यूब पंडित की हत्या भी भीड़तंत्र है । उसे आतंकी घटना नहीं कहा जा सकता है । अगर अय्यूब पंडित की हत्या आतंकवादी घटना है तो जुनैद,अखलाक़ की हत्या भी आतंकवादी घटना है । अगर अखलाक की हत्या भीड़तंत्र है तो अय्यूब पंडित की हत्या भी भीड़तंत्र ही है और ये भीड़तंत्र देश के लिए ठीक नहीं है ।

आमिर हैदर रिज़वी कहते हैं कि पूरा कुरान मुसलमानों से खिताब ही नहीं करता है, हर जगह इंसानों से बात करता है । कुरान में जो भी मैसेज है वो इंसानों के लिए है सिर्फ़ मुसलमानों के लिए नहीं हैं ।

रिज़वी आगे कहते हैं कि इस्लाम कहता है कि मस्लने कज़ा यानि मौत का बिस्तर लगा दिया जाए और उस पर बैठकर बात की जाए तो हम कुरान का जबाव कुरान से देंगे, वेद का जवाब वेद से देंगे, बाइबिल का जबाव बाइबिल से देंगे ।

लेकिन यहां उल्टा हो रहा है मुस्लिम धर्मगुरु कुरान की आयतें सुना देते हैं, जो हमारे दूसरे धर्मगुरुओं को समझ नहीं आता है। हिंदू धर्मगुरु संस्कृत के श्लोक सुना देते हैं जो मुसलमानों को समझ नहीं आते हैं । सब अपने अपने धर्मों को अव्वल बताने में तुले हैं, कोई ये नहीं बताता है कि उनका धर्म अव्वल क्यों है ।

देश में गौआतंकियों पर बात करते हुए आमिर हैदर रिज़वी ने कहाकि पहले हर किसान के घर में गाय होती थी गौशाला होती थी, उसकी रक्षा भी करता था लेकिन जब से गाय को विवादित बनाया है किसानों ने गाय पालना कम कर दिया है । गाय के नाम पर जितनी गौशालाएं चल रही हैं उन गायों का चारा गौशाला संचालक खा रहे हैं ।

रिज़वी आगे कहते हैं कि गौसवकों को पता ही नहीं है कि गाय की सेवा कैसी होती है , गाय माता है तो गाय कचरा खाते क्यों फिर रही है । बाबा रामदेव पर निशाना साधते हुए आमिर हैदर कहते हैं कि किसानों की गाय का दूध 25 रुपए लीटर बिक रहा है जबकि बाबा रामदेव जो गाय पाल रहे हैं उनके गाय का मूत्र ही 20 रुपए रुपए लीटर बिक रहा है ।

स्वामी रामदेव का गौमूत्र मिला हुआ फिनाइल 50 रुपए लीटर बिक रहा है , किसानों की गायों का मूत्र 20 रुपए लीटर बिकने लगे तो कोई गाय कूड़ा खाते नहीं दिखेगी ।

बीजेपी ने गाय को एक राजनीतिक प्राणी बना दिया है । बीजेपी गोवा के अंदर गौकशी क्यों नहीं बंद कराती हैं,गोवा , मणिपुर, और पूर्वोत्तर के अधिकांश राज्यों में गौकशी पर कोई रोक नहीं है ।

रिज़वी कहते हैं कि बीजेपी नेता ने कहाकि अगर हम सत्ता में आए तो सबसे अच्छा गौमांस मुहैया कराएंगे. रिजजू ने कहा कि वो गौमांस खाते हैं उन्हे हटाइए । गोवा के सीएम को हटाइए । इन्हें मकसद है देश की सत्ता में काबिज रहना । हर चीज़ के राष्ट्रवाद से जोड़ दिया गया है ।

क्रिकेट मैंच राष्ट्रवाद से जोड़ दिया गया है लेकिन जब पैसा आता है तो राष्ट्रवाद खत्म हो जाता है । जो पाकिस्तान के हालत हैं अब हम उसी तरफ जा रहे हैं । राष्ट्रवाद के नाम पर मीडिया को भी निशाना बनाया जा रहा है , जो पत्रकार ,मीडिया सही खबरें दिखाता है या सत्ता के खिलाफ लिखता या बोलता है उसे देशद्रोही कह देते हैं ।

TOPPOPULARRECENT