Saturday , July 29 2017
Home / Delhi News / मुस्लिम विरोधी हिंसा को दबाने की कोशिश कर रही है दिल्ली पुलिस, इफ्तिख़ार की मेडिकल जांच तक नहीं करवाई

मुस्लिम विरोधी हिंसा को दबाने की कोशिश कर रही है दिल्ली पुलिस, इफ्तिख़ार की मेडिकल जांच तक नहीं करवाई

दिल्ली मेट्रो प्रोजेक्ट में काम करने वाले मोहम्मद इफ्तिख़ार आलम के साथ हुई मारपीट के मामले में पुलिस ने अब तक आरोपियों के ख़िलाफ़ कोई मामला नहीं दर्ज किया है।

इफ्तिख़ार पर हमला भीड़ का यह हमला दिल्ली के सराये काले खाँ में 7 जुलाई 2017 को रात 2 बजे हुआ था। भीड़ ने पहले इफ्तिख़ार को मुसलमान और पाकिस्तान के ताने दिए, फ़िर हमला कर दिया। इस दौरान इफ्तिख़ार अपनी कंपनी की ड्यूटी पर थे।

खबर के मुताबिक़, इफ्तिख़ार अपने आफिस की गाड़ी से एक साइट से दूसरी साइट पर जा रहे थे तभी काले खाँ के पास 25 से 30 लोगों ने उन्हें पाकिस्तानी कहा और बुरी तरह मारपीट की। बदमाशों ने इफ्तिखार पर भैंस चोरी का भी झूठा आरोप लगाया।

बहरहाल, भीड़ की हिंसा के बीच पुलिस का रवैय्या चौंकाने वाला है। पुलिस इस मामला को दबाने की कोशिश कर रही है। इस मामले में अभी कोई एफ़आईआर नहीं दर्ज की गई है और न ही इफ्तिख़ार की पुलिस ने मेडिकल जांच कराई है।

Even after 2 days no FIR in this Anti-Muslim hate crime in the heart of DelhiShocking role of Delhi Police and Delhi Metro's Contracting Company.We appeal readers to call Sarai Kale Khan Police Station 01124358498 and enquire why no FIR has been registered, why no medical tests for victim Iftekhar Alam. Attack on Intekhab happened at Sarai Kale Khan in Delhi at 2 a.m. on 7th July 2017. Intekhab Alam was on duty for his company jkumar.com. J Kumar company is a contractor working for Delhi Metro. Intekhab was near his company's site when this incident happened and both the company and Delhi Police is trying to cover up this matter.11:30 pm on 8th July, Adv. Abubakr Sabbaq of APCR, Ovais Sultan Khan of ANHAD and Mazin Khan of Milli Gazette met the victim in Jeevan Hospital near Maharani Bagh. Adv. Abubakr Sabbaq guided the victim about his legal rights and what needs to be done.Listen to his story in this video.

Posted by The Milli Gazette on Saturday, July 8, 2017

 

TOPPOPULARRECENT