Saturday , August 19 2017
Home / Maharashtra & Goa / भाजपा मंत्री पंकजा मुंडे पर आंगनवाड़ी में अब तक का सबसे बड़ा घोटाला करने का लगा आरोप

भाजपा मंत्री पंकजा मुंडे पर आंगनवाड़ी में अब तक का सबसे बड़ा घोटाला करने का लगा आरोप

महाराष्ट्र की महिला एवं बाल कल्याण मंत्री और भाजपा नेता पंकजा मुंडे एक बार फिर विवादों में हैं। आम आदमी पार्टी की सदस्य प्रीति शर्मा-मेनन ने आरोप लगाया है कि पंकजा ने नियम तोड़ मरोड़कर एकात्मिक बाल विकास योजना के तहत पोषण आहार बनाने के ठेके फर्जी स्वयं सहायता समूहों को दिए।

मेनन का आरोप है कि कुल 5439.40 करोड़ रुपये के ठेकों में से 4805.78 करोड़ रुपये के ठेके तीन ऐसे समूहों को दिए गए जिन्हें सुप्रीम कोर्ट ने ब्लैक लिस्ट किया है। जबकि, 633.50 करोड़ रुपये के ठेके जिन 15 समूहों को दिए गए उसमें से 12 अपात्र हैं।

प्रीति शर्मा ने कहा कि न्यायालय के आदेशानुसार ठेके केवल महिला संचालित स्वयं सहायता समूह को ही दिए जाने चाहिए। इसके बावजूद जिन्हें ठेके मिले हैं वहां महिलाओं का केवल नाम है, असली ताकत पुरुषों के हाथ में है । प्रीति शर्मा मेनन की मांग है कि ठेकों में ऐसी धांधली करने के बाद पंकजा मुंडे मंत्री पद पर बने रहने के योग्य नहीं हैं।

आंगनवाडी में अब तक का सबसे बड़ा घोटाला बताते हुए मेनन ने कहा कि बाल विकास सेवा (आईसीडीएस) के पोषण आहार का 88 प्रतशित (4,806 करोड़ रुपये) ठेका प्राइवेट ठेकेदार वेंकटेश्वर महिला औद्योगिक उत्पादन सहकारी संस्था लिमिटेड, महालक्ष्मी महिला गृह उद्योग एवं बाल विकास बहुउद्देशीय औद्योगिक सहकारी संस्था और महाराष्ट्र महिला सहकारी गृह उद्योग संस्था लिमिटेड को दे दिया गया।

जबति 12 प्रतिशत ( 633 करोड़ रुपये) का ठेका 15 महिला बचत गट को दिया गया। मेनन के अनुसार, तीनों प्रमुख ठेकेदार अपात्र है।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2009 में राज्य सरकार ने जिस प्रमुख तीन महिला मंडलों को ठेका दिया गया है। उन संस्थाओं का गठन प्राइवेट कृषि कंपनी के रूप में किया गया था। सुप्रीम कोर्ट ने इन आरोपों की जांच के आदेश दिए थे।

किंतु राज्य सरकार ने गुपचुप तरीके से महिला मंडलों का इस्तेमाल करते हुए प्राइवेट कंपनियों को ठेका दे दिया, जबकि जांच में रिपोर्ट आई है कि ये कंपनियां गैरकानूनी हैं। वर्ष 2009 में हुए घोटाले को बीजेपी सरकार वर्ष 2017 में बढ़ा रही है। दोषी ठेकेदारों को सजा दिलाने की बजाय पंकजा उनका पुनर्वासन कर रही हैं।

आम आदमी पार्टी ने सबूत समेत दावा किया है कि ठेकों के बदले में महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष रावसाहब दानवे को 5 लाख रुपये दिए गए. आप की सदस्य प्रीति शर्मा मेनन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोरेश्वर बचत गुट के बैंक एकाउंट की वह एंट्री दिखाई जहां आरडी दानवे के नाम से 5 लाख रुपये चेक द्वारा दिए गए हैं। इस मामले पर दानवे की तरफ से अभी तक सफाई नहीं दी गई है।

TOPPOPULARRECENT