Wednesday , June 28 2017
Home / India / BSF अधिकारियों पर राशन के बाद अब ईंधन बेचने के लगे आरोप

BSF अधिकारियों पर राशन के बाद अब ईंधन बेचने के लगे आरोप

नई दिल्ली: सीमा सुरक्षा बल (BSF) के जवान तेज बहादुर यादव की ओर से खाने की गुणवत्ता के संबंध में जारी किए गए वीडियो से देश भर में हंगामा शुरू हो गया है. एक ओर BSF ने अपनी शुरूआती रिपोर्ट में इन सभी आरोपों को खारिज किया है दूसरी ओर मामले की उच्च स्तरीय जांच की जा रही है. वहीं इसी मामले से जुड़ा एक और चौंकाने वाला वाकया सामने आया है. BSF के कैंप्स के आस-पास रहने वाले कुछ लोगों ने दावा किया है कि कुछ अधिकारी उन्हें ईंधन और राशन, बाजार से आधे दाम पर मुहैया कराते हैं.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार एक BSF जवान और जम्मू कश्मीर स्थित श्रीनगर के हुमहमा BSF हेडक्वार्टर के आस पास रहने वाले लोगों ने दावा किा है कि यहां हवाई अड्डे के पास रहने वाले दुकानदार, BSF अधिकारियों की ओर से बेचे जाने वाले ईंधन के खरीददार हैं.
अखबार के अनुसार नाम ना प्रकाशित किए जाने की शर्त पर एक BSF जवान ने बताया कि अधिकारी स्थानीय बाजार में राशन और खाने-पीने की चीजें बेच देते हैं. सामान हम लोगों तक पहुंच नहीं पाता.

बताया कि हमारी रोजमर्रा की जरूरत की चीजें भी नहीं मिल पाती है और अधिकारी इन्हें एजेंट्स के जरिए बाजार में बेच देते हैं. अखबार के अनुसार हमें बाजार से आधे दाम पर हुमहमा कैंप के कुछ अधिकारियों से डीजल और पेट्रोल मिल जाता है. इसके साथ ही राशन में चावल, मसाला, दाल और रोजमर्रा की बाकी चीजें भी बहुत कम दाम पर मिल जाती हैं. इतना ही नहीं एक फर्नीचर डीलर ने चौंकाने वाला दावा करते हए कहा कि दफ्तर और बाकी जरूरत के फर्नीचर खरीदने के लिए आने वाले अधिकारी हमसे अच्छा-खासा कमीशन लेते हैं. उनका कमीशन हमारे लाभ से ज्यादा होता है. अधिकारी आते हैं, कमीशन लेकर फर्नीचर खरीद लेते हैं. कई बार उन्हें गुणवत्ता से भी कोई मतलब नहीं होता.
BSF जवान तेज बहादुर यादव का वीडियो भी सोशल मीडिया पर लगातार वायरल हो रहा है.

Top Stories

TOPPOPULARRECENT