Saturday , September 23 2017
Home / Khaas Khabar / BSF जवान तेज बहादुर के परिवार ने कोर्ट में याचिका दायर कर हाजिर करने की मांग की

BSF जवान तेज बहादुर के परिवार ने कोर्ट में याचिका दायर कर हाजिर करने की मांग की

नई दिल्ली: सीमा सुरक्षा बल के जवान तेज बहादुर यादव के परिवार ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। दिल्ली हाईकोर्ट में उनके परिवार वालों ने गुरुवार को याचिका दायर कर उनको पेश करने की मांग की। तेज बहादुर के परिवार वालों ने याचिका में कहा है कि उन्हें पता ही नहीं है कि वे कहां हैं।

विजय नाम के एक उनके रिश्तेदार ने बताया कि उन्होंने हाईकोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण की याचिका दायर की है। उन्होंने बताया कि तेज बहादुर ने अपनी पत्नी से आखिरी बार सात फरवरी को बात की थी उसके बाद उनका कोई पता नहीं है। विजय ने कहा, “हम उनके मोबाइल पर कॉल कर रहे हैं, लेकिन कोई जवाब नहीं मिल रहा। जब हमने उनके कार्यालय के नंबर पर संपर्क किया तो किसी ने हमें नहीं बताया कि वह कहां हैं या तो कोई जवाब ही नहीं दे रहे।”

तेज बहादुर के रिश्तेदार ने कहा कि परिवार वालों ने बीएसएफ के महानिदेशक को दो चिट्ठियां भी भेजी हैं। लेकिन उसका भी कोई जवाब नहीं मिला है। बता दें कि  तेज बहादुर के परिवार वालों ने इससे पहले आरोप लगाया था कि उनको को धमकाया जा रहा है और मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया जा रहा है।

गौरतलब है कि पिछले दिनों बीएसएफ जवान तेज बहादुर ने सोशल मीडिया पर एक के बाद एक कई वीडियो साझा किया था। उस वीडियो में उन्होंने बीएसएफ की ओर से जवानों को मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता पर सवाल उठाया था। उन्होंने वीडियो के जरिए अपने आला अधिकारियों पर आरोप लगाया था कि वे अवैध तरीके से खाद्य सामग्री बेचते हैं। हालांकि उन्होंने किसी अधिकारी का नाम नहीं लिया था।

तेज बहादुर के इस वीडियो को सोशल मीडिया वायरल होने के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय और गृह मंत्रालय ने इस घटना का पूरा ब्योरा मांगा था। उसके बाद तेज बहादुर पर ही कई मामले दर्ज कर दिए गए, जिसमें उन पर अनुशासन भंग करना अरोप शामिल है। उसके बाद अधिकारियों ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के उनके अनुरोध को भी खारिज कर दिया।

TOPPOPULARRECENT