Friday , October 20 2017
Home / Education / केंद्र ने जारी नहीं की छात्रवृत्ति, 250 कश्मीरी छात्रों को यूनिवर्सिटी ने हॉस्टल से निकाला, दर-दर भटक रहे हैं छात्र

केंद्र ने जारी नहीं की छात्रवृत्ति, 250 कश्मीरी छात्रों को यूनिवर्सिटी ने हॉस्टल से निकाला, दर-दर भटक रहे हैं छात्र

जयपुर: राजस्थान में लगभग 250 कश्मीरी छात्रों को हॉस्टल से निकाल दिया गया है, और वह अब स्थानीय मुस्लिम परिवारों से मदद मांग रहे हैं। यह मामला जयपुर के सुरेश ज्ञान विहार विश्वविद्यालय में पेश आया। छात्रों का कहना है कि विश्वविद्यालय द्वारा उन्हें इसलिए निकाला गया है, क्योंकि उनके लिए केंद्र सरकार द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति विश्वविद्यालय को प्राप्त नहीं हुई है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इनमें से अधिकांश छात्र ऐसे हैं जोकि कश्मीर के आतंकवाद प्रभावित क्षेत्र से आते हैं। मई 2016 में केंद्र सरकार ने केवल 100 छात्रों को ही छात्रवृत्ति दी थी। वहीं 320 छात्र जिनमें 70 लड़कियां हैं अभी भी अपनी छात्रवृत्ति का इंतजार कर रही हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार फ़िलहाल लड़कियों को छात्रावास में रहने की अनुमति दी गई है। लेकिन जो छात्र पिछले तीन साल से विश्वविद्यालय में पढ़ाई कर रहे हैं उन्हें एक अगस्त तक छात्रावास खाली करने का निर्देश दिया गया था। लेकिन कहा गया था कि यह छात्र शहर में अपने रहने का खुद प्रबंध करके विश्वविद्यालय में शिक्षा प्राप्त करने आ सकते हैं। छात्रों को शिक्षा प्राप्त करने आने से मना नहीं किया गया था।

अब छात्र जहां सरकार से अपनी छात्रवृत्ति रिलीज करने की मांग कर रहे हैं वहीं अपने रहने के लिए जगह की तलाश में दर-दर भटक भी रहे हैं। एक छात्र ने कहा कि विश्वविद्यालय का दावा है कि जब 2015 से मेरा दाखिला यहाँ हुआ है तब से सरकार ने छात्रवृत्ति की एक कौड़ी भी विश्वविद्यालय को नहीं दी है। अगर सरकार के पास फंड रिलीज करने का कोई योजना ही नहीं होता है, तो वह छात्रवृत्ति जारी क्यों कर देती है?

सुपोर का रहने वाला 21 वर्षीय छात्र तौफ़ीक़ ने कहा कि मैं इस शहर में अपने खर्च पर अधिकतम एक सप्ताह बिता सकता हूँ। वहीं एक अन्य छात्र नजीर ने कहा कि कश्मीरी होने के कारण हमें किराए पर घर लेने में भी काफी परेशानी हो रही है।

TOPPOPULARRECENT