Tuesday , May 23 2017
Home / Crime / दलित का शव दफनाने के विवाद के बाद सांप्रदायिक तनाव, गांव में पीएसी तैनात

दलित का शव दफनाने के विवाद के बाद सांप्रदायिक तनाव, गांव में पीएसी तैनात

आज़मगढ़: दलित का शव दफनाने के मामले में शुक्रवार को देवगांव कोतवाली के कटौली खुर्द गावं में लाठी—डण्डे से जमकर मारपीट हुई है इस घटना में दलित पक्ष के महिला, पुरूष समेत बच्चे भी घायल हुए हैं। जिसके बाद चार थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच चुकी है। सूचना पाकर घटना स्थल पर सब डिविजनल मजिस्ट्रेट और सीओ पहुंचे।
दरअसल देवगांव कोतवाली क्षेत्र के कटौली खुर्द गांव निवासी 112 साल की नगई राम की बुधवार की दोपहर मौत हो गई थी। देवगांव कोतवाली क्षेत्र के कटौली खुर्द गांव में शुक्रवार को दलित की लाश गांव के कब्रिस्तान में दफनाने को लेकर दलित और समुदाय विशेष के बीच विवाद हो गया। इसमें समुदाय विशेष के लोगों ने दलितों पर हमला बोल दिया। गुरुवार को परिवार के लोगों ने शव देर शाम घर से करीब 50 मीटर दूर दलित कब्रिस्तान में दफना दिया। कब्रिस्तान से सटा गांव के दुसरे समुदाय के व्यक्ति का खेत है। इसलिए शव दफनाने से पहले लोगों ने उसे इसकी सूचना देकर मौके पर देखने की बात कही थी, लेकिन वह नहीं आया।
शुक्रवार को दलित पक्ष के लोग कब्र को पक्का करा रहे थे। इसी बीच दुसरे समुदाय के व्यक्ति के लोग पहुंचे और जमीन अलाऊ की बताते हुए शव दफनाने पर आपत्ति जताई। इसी बात को लेकर कहासुनी हुई और जमकर मारपीट हुई।
फिलहाल गांव में पीएसी तैनात है और एसडीएम लालगंज ने अपनी मौजूदगी में जमीन का सीमांकन कराने के बाद अधूरे पड़े चिनाई के कार्य को पूरा कराया। एसपी आनंद कुलकर्णी ने दोषियों के विरुद्ध रासुका के तहत कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT