Thursday , June 29 2017
Home / India / थल सेना अध्यक्ष का विवादित बयान, कहा- पत्थरबाज़ हथियार उठा लें तो मुझे ज़्यादा खुशी होगी क्योंकि…

थल सेना अध्यक्ष का विवादित बयान, कहा- पत्थरबाज़ हथियार उठा लें तो मुझे ज़्यादा खुशी होगी क्योंकि…

थल सेना अध्यक्ष बिपिन रावत एक समाचार एजेंसी को दिए बयान में कहा है कि जब लोग सेना पर पत्थर-पेट्रोल बम फेकें तब मैं सेना को देखते रहने, मरने के लिए नहीं कह सकता। उन्होंने कहा कि डर्टी वॉर से निपटने के लिए नायाब तरीके अपनाने होंगे।

पीटीआई से बातचीत में उन्होंने यह बात कही। बता दें कि सेना अध्यक्ष का यह बयान ऐसे समय आया है जब सेना जम्मू कश्मीर में हिंसा पर उतारू भीड़ पर काबू करने का प्रयास कर रही है। पाकिस्तान भी एलओसी पर लगातार संघर्ष विराम तोड़ रहा है।

जनरल रावत ने यह भी कहा कि अगर लोग पत्थरबाजी की जगह सेना पर फायरिंग करें तो उनका काम आसान हो जाएगा। उन्होंने कहा कि काश ये लोग हम पर पत्थर फेंकने के बजाय हथियारों से हमला करते, तब मुझे ज्यादा खुशी होती।

तब मैं वो कर सकता था, जो मैं करना चाहता हूं। जम्मू-कश्मीर में कई वर्षों तक सेवा देने वाले जनरल रावत ने कहा कि अगर किसी देश में लोगों का सेना पर से भरोसा उठ जाए तो वह देश बर्बाद हो जाता है।

बता दें कि कुछ दिन पहले मेजर गोगोई के जीप के आगे एक कश्मीरी युवक को बांधने के लिए आलोचना का शिकार होना पड़ा था। इस बात का सेना की ओर से समर्थन किया गया। सेना प्रमुख ने मेजर के फैसले को सही बताया था।

पिछले कुछ दिनों में आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए सेना ने कई को मुठभेड़ में मार गिराया। इसके साथ ही सेना ने पिछले 24 घंटों में ही 11 से अधिक आतंकियों को मुठभेड़ में मारा है। सेना ने घुसपैठ की कोशिश में लगे आतंकियों पर भी कार्रवाई की है।

शनिवार को सुरक्षा बलों ने कश्मीर के त्राल मे आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन का टॉप कमांडर सब्जार अहमद सहित दो आतंकियों को मार गिराया। त्राल में मारे गए आतंकियों के विरोध में अलगावादियों ने दो दिन के कश्मीर बंद का ऐलान किया है।

कई जगहों पर हिंसक विरोध प्रर्दशन भी हुआ है लेकिन सुरक्षाबलों के मुताबिक अभी हालात काबू में है। और वो हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है ।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT