Wednesday , August 23 2017
Home / Crime / सहानपुर के बाद अब मेरठ में दलित-ठाकुर भिड़े, विवादित खेत बनी वजह

सहानपुर के बाद अब मेरठ में दलित-ठाकुर भिड़े, विवादित खेत बनी वजह

मेरठ: सहारनपुर के बाद बुधवार को मेरठ में जमीन पर कब्जे को लेकर दलितों और ठाकुरों के बीच बुधवार को जमकर पथराव और फायरिंग हुई। आरोप है कि इस दौरान राजपूत पक्ष की ओर से की गई फायरिंग में गोली लगने से दलित समाज के एक युवक सहित महिला और आधा दर्जन लोग घायल हो गए। दलित समाज की ओर राजपूत पक्ष के खिलाफ थाने में तहरीर दी गई है जिसके बाद से आरोपी पक्ष गांव से फरार है। बताया जाता है कि सरधना थाना क्षेत्र के दौलतपुर स्थित एक खेती की जमीन को लेकर दलितों और राजपूतों के बीच विवाद चल रहा है जो वर्तमान समय में कोर्ट में विचाराधीन है। दोनों ही पक्ष उस जमीन पर अपना मालिकाना हक होने का दावा करते हैं। बुधवार की सुबह राजपूत पक्ष के बिजेन्द्र खेत में पानी चलाने गए थे। आरोप है कि इसी बीच दलित समाज के मोहर सिंह और उनके पुत्र पवन ने उनकी पिटाई कर डाली। जिसके बाद राजपूत और दलित समाज के लोग आमने-सामने आ गए और दोनों पक्षों के बीच जमकर धारदार हथियार, लाठी-डंडे चले और पथराव हुआ। आरोप है कि राजपूत पक्ष द्वारा फायरिंग की गई जिसमें पवन के पैर में गोली लगने से वह घायल हो गए। वहीं दलित पक्ष की पाली देवी, मोहर सिंह, प्रवीन, सचिन, बजरंग, प्रितीश, अमित और मोनू भी पथराव और धारदार हथियारों के हमले में घायल हुए। घटना के बाद गांव में हड़कंप मच गया और दलित व राजपूत समाज के लोगों में तनाव व्याप्त हो गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। दलित समाज की ओर से मोहर सिंह ने राजपूत समाज के संजय पुत्र कंवरपाल सहित कई और लोगों के खिलाफ थाने में तहरीर दी गई है। घटना के बाद पुलिस ने आरोपियों की तलाश में गांव में दबिश दी लेकिन सभी घर से फरार मिले। उधर, गांव में तनाव को देखते हुए फोर्स तैनात कर दी गई है।

TOPPOPULARRECENT