Monday , August 21 2017
Home / India / ज़फर की बेटी बोली- दर्द से चिल्लाते मेरे पिता ने मेरी आँखों के सामने ही दम तोड़ा

ज़फर की बेटी बोली- दर्द से चिल्लाते मेरे पिता ने मेरी आँखों के सामने ही दम तोड़ा

प्रतापगढ़: बीते दिनों खुले में शौच करती महिलाओं की फोटो खींचने से मना करने पर मौत के घात उतार दिए गए ज़फर खान की बेटी सबीरा ने कहा है कि मेरी आँखों के सामने ही उन्होंने दम तोड़ा।

17 साल की सबीरा और इलाके के स्थानीय लोगों ने ख़ुद को इस घटना का चश्मदीद होने का दावा किया है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि खुले में शौच करने को लेकर नगर परिषद के कर्मचारी उन्हें अक्सर प्रताड़ित करने हैं।

सबीरा ने कहा कि नगर परिषद के कर्मचारी अक्सर सुबह 6 बजे ही ही जाते हैं और खुले में शौच करने वाली महिलाओं की फोटो लेते हैं। इतना ही नहीं, धमकी देने के साथ साथ वह पानी के लोटे को भी लात से मार देते हैं।

सबीरा ने बताया कि उस दिन भी सरकारी कर्मचारियों ने एक महिला को धक्का दे दिया था और महिला के चिल्लाने पर ज़फर ने इस मामले में दखल दिया था।

उन्होंने आगे बताया, ‘ महिला की आवाज़ सुनकर वह उसे बचाने पहुंचे और मैं भी उनके पीछे गई। वहां जाने पर मेरे पिता ने फोटों खींचने से मना किया लेकिन सरकारी कर्मचारियों ने उन्हें पेट पर लात-घूसों से मरना शुरू कर दिया।’

इस बीच शोर सुनकर हमारे पड़ोसी भी वहां आ गए थे लेकिन दर्द से चिल्लाते मेरे पिता ने वहीँ ज़मीन पर ही दम तोड़ दिया।

मीडिया से बातचीत करते हुए सबीरा ने लाल निशान पड़े के पत्थर को दिखाकर कहा कि यह ज़फ़र का खून है लेकिन सबूत इकट्ठा करने की किसे पड़ी है?

हालाँकि शुरूआती जांच में ज़फर की मौत की वजह हार्ट अटैक बताई गई है लेकिन इस पर सवाल उठाते हुए उनकी बीवी रशीदा ने कहा कि वह पूरी तरह स्वस्थ थे। ऐसे में उन्हें हर्ट अटैक आने का सवाल ही नहीं पैदा होता।

रशीदा ने कहा कि ज़फर बस्ती में रहने वालों का ख्याल रखते थे इसलिए वह नगर परिषद की आँखों में हमेशा खटकते थे। उन्होंने कहा कि अभी शासन-प्रशासन की तरफ से किसी ने भी हमसे मुलाक़ात नहीं की है।

फिलहाल इस मामले में अभी पुलिस ने किसी को भी गिरफ़्तार नहीं किया है।

 

 

 

 

 

 

 

TOPPOPULARRECENT