Friday , August 18 2017
Home / Khaas Khabar / दूल्हा मुसलमान था, इसलिए हनीमून पर गए जोड़े को पुलिस ने हिरासत में लेकर जबरन वापस भेजा

दूल्हा मुसलमान था, इसलिए हनीमून पर गए जोड़े को पुलिस ने हिरासत में लेकर जबरन वापस भेजा

अमेरिका में लॉस एंजिल्स हवाई अड्डे पर अधिकारियों ने एक ब्रिटिश नवविवाहित जोड़े को 26 घंटों तक हिरासत में रखने के बाद वापस लंदन रवाना कर दिया। ऐसा इसलिए क्योंकि दूल्हा मुसलमान था। यह जोड़ा हनीमून मनाने हुवाई जा रहा था।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

ब्रिटिश अखबार डेली मेल के अनुसार 29 वर्षीय नताशा पोलिटाकीज़ और उसके पति अली गुल ने बताया कि उन्हें लोस एंजिल्स हवाई अड्डे पर हिरासत में लेकर इस तरह का व्यवहार किया गया मानो कि वे मुजरिम हैं। ब्रिटिश नागरिकता वाले दूल्हा दूल्हन को जबरन ब्रिटेन वापस भेजा गया, जिस कारण उनके हनीमून पैकेज की रकम बर्बाद हो गई, हनीमून के लिए जोड़े ने 7 हजार पाउंड यानी लगभग 10 हजार डॉलर का भुगतान किया था।

नताशा ने डेली मेल को बताया कि इस व्यवहार का सामना करने की वजह यह थी कि उसका पति अली तुर्की मूल का मुसलमान है। अली गुल लंदन में प्रॉपर्टी डीलर है और इस क्षेत्र में एक कामयाब कंपनी चला रहा है। उसके पास ब्रिटिश नागरिकता है, जिस कारण उसे अमेरिका जाने के लिए अग्रिम वीजा लेने की भी जरूरत नहीं।

लॉस एंजिल्स हवाई अड्डे पहुंचने पर नताशा और अली को बताया गया था कि उका सिर्फ 5 मिनट का इंटरव्यू होगा, लेकिन बाद में दोनों इस बात पर भोंचक्का रह गए कि, उनकी हिरासत की अवधि 26 घंटे तक चला गया।

TOPPOPULARRECENT