Tuesday , September 26 2017
Home / Delhi News / EVM मामले में चुनाव आयोग की चुनौती, 10 दिनों में हैक करके दिखाए

EVM मामले में चुनाव आयोग की चुनौती, 10 दिनों में हैक करके दिखाए

नई दिल्ली। पांच राज्यों में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के बाद इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) पर कथित छेड़छाड़ के आरोप लगाए गए थे। इन आरोपों पर चुनाव आयोग ने कड़ा जवाब दिया है। आयोग ने मई के पहले सप्ताह से 10 मई के बीच वैज्ञानिकों, तकनीकी विशेषज्ञों और राजनीतिक दलों को ईवीएम को हैक करने की खुली चुनौती दी है।

बता दें कि ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस की अगुवाई में देश के 13 विपक्षी दलों ने बुधवार को राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मुलाकात की थी। राष्ट्रपति से मिलने वाले इन सभी दलों को ईवीएम पर शंका है।

राजनीतिक दलों द्वारा ईवीएम में कथित छेड़छाड़ के लगातार आरोपों के बाद चुनाव आयोग ने यह फैसला किया है। एक आधिकारिक सूत्र के मुताबिक मई के शुरू में विशेषज्ञ, वैज्ञानिक और तकनीक के जानकार 10 दिन के अंदर आकर मशीन को हैक करने की कोशिश कर सकते हैं। हालांकि, चुनाव आयोग हमेशा से ईवीएम को निष्पक्ष बताया आया है।
पहले भी मिल चुकी है चुनौती

बता दें कि ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े करने का यह पहला मामला नहीं है। 2009 में भी ईवीएम पर सवाल उठाएं गए थे। इसके बाद आयोग ने उस समय भी इसी तरह की चुनौती दी थी। दावा किया जाता है कि उस समय भी कोई ईवीएम को हैक नहीं कर सका था।

TOPPOPULARRECENT