Sunday , April 30 2017
Home / GUJRAT / गुजरात: यूनिवर्सिटी की किताब में छेड़छाड़, दुनिया की कई अहम खोज का श्रेय ब्राह्मणों और ऋषियों को मिला

गुजरात: यूनिवर्सिटी की किताब में छेड़छाड़, दुनिया की कई अहम खोज का श्रेय ब्राह्मणों और ऋषियों को मिला

वडोदरा:  गुजरात के वडोदरा में एम एस यूनिवर्सिटी से एक किताब सामने आई है जिसमें इतिहास से कुछ तथ्यों के साथ छेड़छाड़ कर उन्हें अपने हिसाब से पेश करने की कोशिश की गई है।

इसी साल छापी गई इस किताब में दुनिया की महत्वपूर्ण खोजो को हिन्दू धर्म से जोड़ते हुए ब्राह्मणों और ऋषियों को इनका श्रेय दिया गया है।किताब में लिखा है कि भारतीय वैज्ञानिक सुष्त्र कॉस्मेटिक सर्जरी के निर्माता थे और न्यूक्लियर टेक्नोलॉजी की खोज आचार्य कन्नड ने की थी।

इसके अलावा कपिल मुनि को ब्रह्माण्ड विज्ञान और महार्षि भारद्वाज को रॉकेट तथा एरोप्लेन बनाने वाला बताया गया है। चरक ऋषि को दवाईयों और गर्गा मुनी को सितारों की खोज करने वाला लिखा गया है।

इस मामले में यूनिवर्सिटी के सीनियर सिंडिकेट मेंबर जिगेश सोनी का कहना है कि किताब में जो लिखा गया है उसके लिए लेखक-कार्यकर्ता दीनानाथ बत्रा की किताबों का संदर्भ लिया गया था। जोकि बिलकुल सही है। अगर ये सब खोजें हमारे लोगों ने की है तो इसमें उनका नाम आने में क्या दिक्कत है?

वहीँ शिक्षाविदों ने इसका विरोध किया है। उनका कहना है कि इससे स्टूडेंट्स के दिमाग में कन्फ्यूजन पैदा होगी। शिक्षाविदों के साथ विपक्षी पार्टियों जिसमें कांग्रेस भी शामिल है भी इसका विरोध कर रही हैं।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT