Saturday , September 23 2017
Home / Entertainment / Film Review: गैंगस्टर से राजनेता बने अरुण गवली की जिंदगी पर प्रकाश डालती है “डैडी”

Film Review: गैंगस्टर से राजनेता बने अरुण गवली की जिंदगी पर प्रकाश डालती है “डैडी”

फिल्म डैडी में अर्जुन रामपाल एक अलग अंदाज़ में नज़र आ रहे है. फिल्म एक अंडरवर्ल्ड  ड्रामा है. अर्जुन न सिर्फ़ फिल्म में अभिनय कर रहे हैं, बल्कि वो इस फिल्म के को-राइटर भी हैं. आइए, जानते हैं कैसी है डैडी.

कहानी है दगड़ी चाल में रहने वाले अरुण गुलाब गवली (अर्जुन रामपाल) की. फिल्म की शुरुआत होती है 70 के दशक से जब मुंबई की मिल्स पर ताला लग जाता है और मिल में काम करने वाले लोग बेरोज़गार हो जाते हैं. पैसों के लिए फिर वो धीरे-धीरे अंडरवर्ल्ड की तरफ़ बढ़ने लगते हैं.

ऐसे में एक गैंग बनती है, जिसका नाम होता है बीआरए गैंग और इसके मुख्य सदस्य होते हैं, अरुण, बाबू (आनंद) और रामा (राजेश). फिल्म में मुंबई पर राज करने वाले अरुण गवली का केवल गैंगस्टर से पॉलिटिक्स तक पहुंचने का सफ़र ही नहीं दिखाया गया है, बल्कि एक पति, पिता और बाद में अपने अपराध के लिए सज़ा काटने की भी कहानी भी नज़र आएगी.

अर्जुन की ऐक्टिंग, अर्जुन का लुक और डायलॉग बोलने का अंदाज़ बेहद प्रभावी है. फिल्म का पहला पार्ट अरुण गवली के डॉन बनने के सफ़र पर है, तो वहीं दूसरा भाग में परिवार और नेता बनने की कहानी दिखाई गई है. 70 के दशक को अच्छे ढंग से पर्दे पर उतारा गया है.

वहीं फिल्म का निर्देशन भी बेहतर हो सकता था. एक अच्छा निर्देशन देने में अशिम आहलुवालिया सफल नहीं हो सके. कमज़ोर संवाद आपको निराश कर सकते हैं. मकसूद के किरदार में फरहान अख़्तर का अभिनय ठीकठाक है. अगर आपको क्राइम या अंडरवर्ल्ड पर बनी फिल्में पसंद है, तो आप ये फिल्म देखने जा सकते हैं.

#स्टारकास्ट:  अर्जुन रामपाल, ऐश्वर्या राजेश, फरहान अख्तर, निशिकांत कामत।
#निर्देशक: अशिम आहलुवालिया।

#प्रोड्यूसर : अर्जुन रामपाल, रुतविज पटेल

#लेखक : अर्जुन रामपाल, अशिम आहलुवालिया।

#रेटिंगः 3 / 5

TOPPOPULARRECENT