Thursday , September 21 2017
Home / International / चीन में रोज़ा रखने पर जुर्माना, किसानों के खेतों में जाकर सेना जबरन खिला रही है खाना

चीन में रोज़ा रखने पर जुर्माना, किसानों के खेतों में जाकर सेना जबरन खिला रही है खाना

चीन सरकार ने शिनजियांग प्रांत में तक़रीबन सौ से अधिक वीगर मुसलमानों पर रोजा रखने के चलते जुर्माना लगाया है। रेडियो फ्री एशिया (आरएफए) की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, यहां वीगर मुसलमानों पर चीन सरकार ने जुर्माना लगाया गया है और कुछ को सुधारवादी शिक्षा के लिए भेज दिया है।

आरएमए को वर्ल्ड वीगर कांग्रेस ने बताया है कि चीन सरकार रमजान के दौरान दिन में लंच न करने वाले मुस्लिम सरकारी कर्मचारियों पर जुर्माना समेत कई तरह के प्रतिबंध लगा रही है।

वर्ल्ड वीगर कांग्रेस के प्रवक्ता डिलशैट रैक्जिट ने रेडियो को बताया कि 27  मई को रमजान शुरू होने के बाद से अब तक तक़रीबन सौ वीगर मुसलमानों को काशगर और होतान में चीन सरकार की नीति तोड़ने के लिए सजा दी जा चुकी है।

उन्होंने यह भी बताया कि कुछ वीगर मुसलमानों पर चीन सरकार ने नियम तोड़ने के लिए 500 युआन तक का जुर्माना लगाया गया है। हालांकि गरीब वीगर मुसलमानों पर इतनी बड़ी राशि का जुर्माना लगाना चीनी सरकार की कठोरता साफ़ तौर पर दर्शाता है।

डिलशैट रैक्जिट ने बताया कि जिन लोगों को सजा दी गई है उनमें से कुछ किसान हैं और कुछ राज्य सरकार के कर्मचारी हैं। इसके अलावा इसमें कुछ सरकारी अधिकारी भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इन सभी को सरकारी नियमों के खिलाफ रमजान में रोजा रखने के लिए सजा दी गई है।

वीगर कांग्रेस के प्रवक्ता का कहना है कि चीन में मुस्लिम सरकारी कर्मचारियों को दबाव डालकर रोजा न रखने के लिए मजबूर किया जाता है जिससे वो सरकार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता साबित कर सकें।

डिलशैट रैक्जिट के मुताबिक़, पुलिस , नागरिक सुरक्षा दल और सुरक्षा एजेंटों का दल खेतों में जाकर लोगों को खाना-पानी पहुंचा रहे है और उसे खाने के लिए मज़बूर कर रहे है। ऐसा सिर्फ मुसलमान रोजा न रख सके इसलिए किया जा रहा है।

खबरों के अनुसार शिनयिजांग प्रांत में रमजान के दौरान रेस्तरां और खाने-पीने की दुकानों के बंद रखने पर भी रोक लगा दिया गया है। एक वीगर मुस्लिम जुओ ने आरएफए रेडियों को बताया है कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने कई कार्यकर्ताओं को रोजा रखने के लिए पार्टी से निकाल दिया है।

बता दें कि चीन के शिनजियांग प्रांत में करीब 45 फीसद आबादी वीगर मुसलमानों की है। इतना ही नहीं चीन सरकार ने शिनजियांग प्रांत ने नाबालिग बच्चों को धार्मिक शिक्षा देने जैसे चीजों पर भी रोक लगा रखी है।

TOPPOPULARRECENT