Monday , September 25 2017
Home / Crime / ज्योतिषी का रूप धारण करके पूर्व कस्टम इंस्पेक्टर कर था जानवरों की तस्करी

ज्योतिषी का रूप धारण करके पूर्व कस्टम इंस्पेक्टर कर था जानवरों की तस्करी

वो था कस्टम इंस्पेक्टर जो बाद में बन गया ज्योतिषी लेकिन इस ज्योतिषी की कलई तब खुली जब वन विभाग की टीम ने इसके यहां छापा मारा । जी हां वन विभाग की टीम ने नोएडा से एक ज्योतिषाचार्य के यहां छापा मारकर बड़ी मात्रा में वन्य जीवों के अंग और खाल आदि बरामद किए है।

ये ढोंगी ज्योतिषाचार्य कालकी कृष्णनन पहले कस्टम डिपार्टमेन्ट में कस्टम इंस्पेक्टर के तौर पर नौकरी करता था। पुलिस का यह भी कहना है कि वह दुर्लभ जीव जंतुओं की खालों की तस्करी अमेरिका और इंग्लैंड में भी करता था।

वन विभाग की टीम ने यह कार्रवाई वन्य जीव क्राइम कंट्रोल ब्यूरो से मिली सूचना के आधार पर की। वन विभाग की टीम ने कालकी कृष्णनन को उसके केंद्रीय विहार सेक्टर 82 नोएडा पर छापा मारकर उसके गिरफ्तार किया।

नोएडा पुलिस ने पूछताछ के आधार पर दावा किया है कि नोएडा से दुर्लभ जीव जंतुओं की तस्करी में पकड़े गए ज्योतिषी कल्कि कृष्णनन का संबंध पिछले दिनों मेरठ में पकड़े गए कर्नल देवेंद्र कुमार बिश्नोई और शिकारी बेटे प्रशांत बिश्नोई से हैं। इसने बाकयदा astrodevam.com नाम से एक वेबसाइट बना रखी थी, जिसके जरिए ये ऑनलाइन ट्रेडिंग करता था।

इस कथित ज्योतिषाचार्य के यहां से नोएडा साइबर सेल की टीम ने सारे कम्प्यूटर भी जब्त कर लिए हैं, जिनका परीक्षण कराया जाएगा। मुख्य वन संरक्षक मुकेश कुमार के मुताबिक पकड़ा गया ज्योतिष कालकी कृष्णन कस्टम डिपार्टमेंट में इंस्पेक्टर था। लेकिन वहां से उसे रिश्वत लेने के मामले में बर्खास्त कर दिया गया था। जिसके बाद कालकी कृष्णन ने अपने आपको ज्योतिषाचार्य घोषित कर दिया और ज्योतिषी की आड़ में वन्य जीवों के अंगों की तस्करी में जुट गया।

अप्रैल में उत्तर प्रदेश के मेरठ में नेशनल शूटर और सेना के पूर्व कर्नल के घर पर डायरेक्टर ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस (DRI) ने छापा मारा था। छापेमारी में एक करोड़ रुपए कैश के साथ कुछ हथियार भी बरामद हुए थे, इतना ही नहीं कर्नल के घर से जंगली जानवरों के शरीर के भी कुछ हिस्से मिले थे।

TOPPOPULARRECENT