Thursday , August 24 2017
Home / Hyderabad News / गौरक्षक इंसान कहलाने के लायक़ नहीं, शैतान से भी बदतर: ओवैसी

गौरक्षक इंसान कहलाने के लायक़ नहीं, शैतान से भी बदतर: ओवैसी

हैदराबाद। ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुसलमीन के अधयक्ष असद उद्दीन ओवैसी ने भीड़ की हिंसा और पीट- पीटकर होने वाले हत्या की घटनाओं की निंदा की है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

ओवैसी ने कहा कि देश में सभी सुरक्षित होंगे तभी सबका विकास होगा। ओवैसी ने गोरक्षकों को कहा कि आप गायों के नाम पर मासूम इंसानों की जान ले रहे हैं। तुम इंसान कहलाने के लायक नहीं हो बल्कि मुझे यह कहना होगा कि तुम्हें शैतान कहना शैतान के लिए सम्मान की बात होगी। तुम शैतान से भी बदतर हो।

2014 में दिल्ली में भाजपा की सरकार बनी। जुलाई 2017 तक 35 लोगों को भीड़ ने मार दिया, जिसमें मुसलमान ही नहीं दलित और हिंदू भाई भी शामिल हैं। 35 में से 28 मुसलमानों को मारा गया और 7 दलित और हिंदू भाई हैं।

ओवैसी ने कहा कि मैं सरकार से भाजपा से संघ परिवार से, बजरंग दल और गोरक्षकों से कहना चाहता हूं कि भारत ‘सबका साथ सबका विकास’ से शक्तिशाली नहीं बन सकता। अगर शक्तिशाली बनना है तो सबकी सोच को सुधारने की जरूरत है। सबका साथ और सबका विकास तब होगा जब सब सुरक्षित होंगे।

ओवैसी ने महाराष्ट्र में मोहसिन शेख की हत्या को याद दिलाते हुए कहा कि महाराष्ट्र की धरती पर पुणे में मोहसिन शेख को मारा गया। मैंने तब संसद में कहा था कि इस तरह के अत्याचार को सख्ती से नहीं रोका गया तो यह बढ़ेगा।

अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले को लेकर ओवैसी ने कहा कि अमरनाथ यात्रा पर जा रहे 7 हिंदू भाइयों को आतंकवादियों ने गोलियों से मार दिया। हमने तब भी इसकी निंदा की थी और आज भी कर रहा हूँ। हमारी लड़ाई कभी हिंदू भाइयों से नहीं रही। हमारी लड़ाई हिंदुत्व के खिलाफ है।

TOPPOPULARRECENT