Sunday , September 24 2017
Home / Khaas Khabar / अल्लाह की रज़ा के लिए ये ”हिंदू परिवार” रखता है पुरे 30 रोज़े

अल्लाह की रज़ा के लिए ये ”हिंदू परिवार” रखता है पुरे 30 रोज़े

रमज़ान के मुकद्दस महीने को बरक़तों रहमतों का महीना कहते हैं । माना जाता है कि मुस्लिम ही इस महीने में रोज़ा रखते हैं और अल्लाह से अपने गुनाहों की तौबा करते हैं। लेकिन हिंदुस्तान की गंगा-जमुना तहज़ीब में कई ऐसी मिसाले मिल जाती हैं जहां कुछ हिंदू लोग भी रोज़ा रखते हैं ।

गोरखपुर में एक ऐसा हिन्‍दू परिवार भी है जो पूरे रमजान यानी 30 दिन रोजा रखता है.परिवार के सदस्य मुस्लिम दोस्‍तों के साथ परम्‍परागत तरीके से रोज़ा इफ़्तार करता है ।

इस परिवार के मुखिया लालबाबू हनुमानजी के परम भक्‍त हैं. लेकिन हर साल रमजान के मुबारक महीने में लालबाबू रोजेदार बनकर 30 दिन रोज़ा रखते हैं. यही नही लालबाबू के पिता भी रोजा रखते थे. उनके गुज़रने के बाद लालबाबू ये परंपरा निभा रहे हैं ।
ऐसा नहीं कि लालबाबू सिर्फ़ रोज़ा रखते हैं, वो सुबह सेहरी करते हैं और नमाज़ भी पढ़ते हैं । रोज़े के दौरान वो अपनी खिलौने की दुकान भी चलाते हैं. लालबाबू सदका एवं फित्रा का विधिवत पालन करते हैं.

लालबाबू ने बताया कि उन्होंने दो बेटियों के बाद बेटे की दुआ मांगते हुए रोज़ा रखने की मन्नत मांगी थी। उनकी ये मन्‍नत पूरी हुई और उसके बाद से उन्होंने रोज़े रखना शुरू कर दिए.

लाल बाबू ने बताया की उनके पिता भी 30 रोजे रखते थे.उन्‍होने भी यह मन्नत मांगी थी कि यदि उनका कोई व्यवसाय या दुकान हो जाए तो वह अल्लाह आला की रजा के लिए रोजे रखेंगे.

उनकी जुबान से निकली फरियाद खुदा ने कुबूल की और उन्हें घंटाघर पर एक अच्छी दुकान मिली. जिसमें उन्होंने खिलौनों का व्यवसाय शुरू किया. अल्लाह के क़रम से उनका यह कारोबार खूब फला.

TOPPOPULARRECENT