Sunday , September 24 2017
Home / Khaas Khabar / डेरा प्रमुख के बारे में फैसला आने से पहले हरियाणा और पंजाब में हाई अलर्ट

डेरा प्रमुख के बारे में फैसला आने से पहले हरियाणा और पंजाब में हाई अलर्ट

चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख बाबा राम रहीम पर चल रहे 15 साल पुराने बलात्कार के मामले में पंचकुला में गुरुवार (24 अगस्त) को सुनवाई होगी। मामले की संवेनशीलता को देखते हुए हरियाणा सरकार ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं और धारा 144 लगा दी है। राज्य में 24 और 25 अगस्त को सरकारी छुट्टी घोषित की गई है।

सरकारी सुरक्षा इंतेज़ाम के बावजूद राम रहीम के समर्थक प्रशासन को खुलेआम चुनौती और धमकी दे रहे हैं। मीडिया से बात करते हुए महिला समर्थक ने कहा कि अगर राम रहीम का जरा सा नाखून भी कटा तो वे लोगों को जड़ से उखाड़ देंगी। दूसरी महिला समर्थक कहती है अगर वे लोग खून देना जानते हैं तो फिर खून ले भी सकते हैं। तीसरी ने कहा कि कोर्ट कल जो भी फैसला लेगी अगर पर सही है तो ठीक, वर्ना वे लोग कुछ भी कर सकते हैं।

फैसला अगर राम रहीम के खिलाफ आया तो हिंसक प्रदर्शन होने का पूरा अंदेशा है। डीजीपी ने राज्य के पुलिस कमिशनर को खत लिखकर इस बात पर चिंता भी जाहिर की है। डीजीपी के मुताबिक, लोगों ने अपने घरों में पेट्रोल, डीजल और पत्थर इकट्ठा करने शुरू कर दिए हैं। वहीं बाकी समर्थक हाथ में डंडे लेकर खुलेआम घूम रहे हैं।

पंचकुला की विशेष सीबीआई कोर्ट कल इस मामले पर फैसला सुनाएगी। इसके लिए पंचकुला में इस वक्त 2 हजार से ज्यादा सुरक्षाबल जवान तैनात हैं। शहर को किले में तब्दील कर दिया गया है। सड़कों पर बैरिकैंडिंग की गई है। हरियाणा के 21 जिलों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

सुरक्षा एजेंसियों से मिली जानकारी के मुताबिक डेरा प्रमुख खुद ही कोर्ट में पेश होंगे। पुलिस को यह जिम्मेदारी नहीं दी गई है। डेरा के नाम पर जो भी लाइसेंसी हथियार हैं उन्हें पुलिस थानों में जमा कराया जा रहा है। सरकार अपनी तरफ से कोई भी जोखिम नहीं उठाना चाह रही है।

TOPPOPULARRECENT