Sunday , October 22 2017
Home / World / H-1B वीज़ों के इंतिख़ाब में लॉटरी का इस्तेमाल

H-1B वीज़ों के इंतिख़ाब में लॉटरी का इस्तेमाल

वाशिंगटन, 10 अप्रैल (पी टी आई) अमरीका जिसे H-1B वीज़ों के लिए तक़रीबन 124,000 दरख़ास्तें वसूल हुईं, इस ने ये पता चलाने के लिए लॉटरी का इस्तेमाल किया कि आई टी प्रोफेशनल्स में ये सब से ज़्यादा मांग वाले वर्क वीज़े किसे दिए जाएंगे।

वाशिंगटन, 10 अप्रैल (पी टी आई) अमरीका जिसे H-1B वीज़ों के लिए तक़रीबन 124,000 दरख़ास्तें वसूल हुईं, इस ने ये पता चलाने के लिए लॉटरी का इस्तेमाल किया कि आई टी प्रोफेशनल्स में ये सब से ज़्यादा मांग वाले वर्क वीज़े किसे दिए जाएंगे।

यू एस सिटीज़नशिप एंड इमिग्रेशन सर्विसेज (SCIS) ने आज कहा कि लॉटरी का इस्तेमाल 7 अप्रैल को हुआ। फैडरल एजेंसी ने H-1B वीज़ों के लिए दरख़ास्त की वसूली एक अप्रैल को शुरू की थी और पाँच रोज़ बाद 5 अप्रैल को इस ने मुक़र्ररा हद तक पहुंच जाने का एलान किया।

बयान के मुताबिक़ 7 अप्रैल 2013 को यू एस सी आई एस ने कम्पयूटर से तैयार शूदा बेतर्तीब इंतिख़ाबी अमल (जिसे आम तौर पर लॉटरी कहते हैं) का इस्तेमाल किया ताकि माक़ूल तादाद में अर्ज़ियों को मुंतख़ब किया जा सके,
जो आम ज़मुरा के लिए 65,000 और असरी डिग्री इस्तिस्ना हद के तहत 20,000 की हदों की तकमील के लिए दरकार हैं।

TOPPOPULARRECENT