Thursday , July 27 2017
Home / Khaas Khabar / कश्मीरी पंडितों के दर्द पर चिल्लाने वाले अनुपम खेर को यूपी में हत्यायें क्यों नहीं दिख रहीं?

कश्मीरी पंडितों के दर्द पर चिल्लाने वाले अनुपम खेर को यूपी में हत्यायें क्यों नहीं दिख रहीं?

इलाहाबाद के युवा कांग्रेस नेता हसीब अहमद अक्सर अपने दिलचस्प पोस्टरों से भाजपा सरकार को घेरते रहते हैं। सोशल मीडिया पर हसीब द्वारा शेयर किए गए तमाम रोचक पोस्टर कई बार वायरल हो चुके हैं।

अब एक बार हसीब अहमद ने देश के मौजूदा हालात का ज़िक्र करते हुए एक पोस्टर जारी करके अभिनेता अनुपम खेर पर निशाना साधा है। इस पोस्टर पर लिखा है कि अनुपम खेर दलाली बंद करो और होश में रहो।

हसीब अहमद ने रायबरेली के उंचाहार में पिछले दिनों एक ही परिवार के पांच लोगों को की हत्या का जिक्र करते हुए पोस्टर में लिखा है कि अनुपम खेर को केवल कश्मीर के पंडितों की चिंता है। यूपी के पंडितों की नहीं।

हसीब ने कहा कि कश्मीर की घटनाओं पर तेजी दिखाने वाले और कश्मीर पंडितों के हमदर्द बनने वाले अनुपम खेर को अब क्या हो गया है। जब रायबरेली के ऊंचाहार में एक ही ब्राह्मण परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी गई तो अनुपम खेर आखिर चुप क्यों हैं?

दरअसल कश्मीरी पंडितों के घाटी से पलायन (माइग्रेशन) की सत्ताइसवीं एनीवर्सरी पर अनुपम खेर ने अपने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया था। इस वीडियो में वे एक कविता पढ़ते दिखे थे। उन्होंने यह कविता ‘फैलेगा हमारा मौन’ टाइटल से कश्मीरी पंडितों को डेडिकेट थी।

इसके साथ ही खेर ने एक कमेंट भी किया थी कि, “27 साल बाद भी हम कश्मीरी पंडित अपने देश में रिफ्यूजी हैं। अनुपम खेर खुद भी कश्मीरी पंडित हैं।

खेर वीडियो में कहते दिखे थे कि कश्मीरी पंडित चुप रहने को मजबूर हैं, लेकिन अब वे और खामोश नहीं रहेंगे। साथ ही आगे उनके वीडियो में था कि.. हमारी चुप्पी पूरी दुनिया में गूंजेगी…समुद्र में नमक की तरह, हमारी चुप्पी जवाब मांगेगी क्योंकि हमें हमारी ही जमीन पर परेशान किया गया।

अब कांग्रेस के नेता हसीब ने अनुपम खेर के उसी ट्विट से उन्हे घेरते हुए लिखा है कि आखिर यूपी के पंडितो का दर्द अनुपम खेर को क्यों नहीं दिख रहा?

 

 

 

 

TOPPOPULARRECENT