Saturday , October 21 2017
Home / Khaas Khabar / ईसाई धर्म के शख्स से शादी करने पर हिंदू लड़की को योगा सेंटर में बनाया बंधक, ढ़हाया कहर

ईसाई धर्म के शख्स से शादी करने पर हिंदू लड़की को योगा सेंटर में बनाया बंधक, ढ़हाया कहर

केरल में एक 28 वर्षीय हिंदू महिला को 22 दिन तक बंद करके रखने का मामला सामने आया है।

इस महिला को कोच्ची के एक योगा सेंटर में सिर्फ इसलिए बंधक बना कर रखा गया ताकि वह ईसाई धर्म के शख्स से शादी न कर पाए। इस मामले में महिला ने केरल हाई कोर्ट में हलफनामा दायर किया है कि वहां पर से शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया है।

खबर के मुताबिक श्वेता नाम की इस महिला डॉक्टर ने उस योगा सेंटर से भाग कर केरल हाई कोर्ट में अपील कर ये कहा है कि श्वेता और आइजक ने पीची के एक मंदिर में शादी की थी और स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत अपनी शादी रजिस्टर करवाई थी।

श्वेता के मुताबिक, वो आइजक के साथ 10 महीने से रह रही थी लेकिन उसके परिवार वालों ने योग केंद्र में जाकर परामर्श के लिए मजबूर कर दिया।

जहाँ पर उसे बंधी बना लिया गया और उसके हाथ बांधकर रखे जाते थे। उसे वहां जमीन पर सोना पड़ता था और वहां के शौचालय का दरवाजा बंद नहीं होता था।

अपने हलफनामे में श्वेता ने दावा किया है कि वहां उसके अलावा दूसरी 60 महिलाओं को भी बंधक बना कर रखा गया था जो गैर-धर्म के युवकों से शादी करना चाहती थीं। कई लड़कियां सालों से बंधक हैं और उनमें से ज्यादातर बीमार थीं।

केरल हाई कोर्ट में 27 जुलाई को 29 वर्षीय रिंट आइजक द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई चल रही है।
वहां से बचकर भाग निकलने में कामयाब हुई श्वेता ने हाई कोर्ट से पुलिस सुरक्षा दिलवाने की भी गुहार की है। हाई कोर्ट ने योग केंद्र को मामले में पक्षकार बनाने का आदेश दिया है ताकि वो अपना पक्ष रख सके।

 

 

 

TOPPOPULARRECENT