Thursday , August 24 2017
Home / International / आतंकी हमला रोकने में भारत पाकिस्तान से पीछे: रिपोर्ट

आतंकी हमला रोकने में भारत पाकिस्तान से पीछे: रिपोर्ट

भारत पाकिस्तान के मुकाबले आतंक हमले रोकने में पीछे है। ये बात एक अमेरिकी रिपोर्ट में कहा गया है। दरअसल, अमेरिका ने आतंकी हमलों के साए में जी रहे देशों की एक लिस्ट जारी है जिसमें कहा गया है कि भारत अपने यहां आतंकी हमले रोकने के मामले में पाकिस्तान से कहीं पीछे हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2016 में भारत में पाकिस्तान से ज्यादा आतंकी हमले हुए है। इस फेहरिस्त में सबसे ऊपर इराक है जहां सबसे ज्यादा सबसे अधिक आतंकी हमले हुए।

रिपोर्ट के अनुसार, दूसरे नंबर पर अफगानिस्तान है। उसके बाद तीसरे नंबर पर भारत है। इससे पहले तीसरे नंबर पर पाकिस्तान था। यह रिपोर्ट यूएस स्टेट डिपार्टमेंट की तरफ से जारी किया गया है। रिपोर्ट के डाटा के मुताबिक, साल 2016 में दुनिया के अलग-अलग कोनों में 11,072 आतंकी हमले हुए। इसमें से 927 यानी कुल के 16 प्रतिशत को भारत ने झेला।

यह आंकड़ा 2015 में 798 था। इन हमलों में मरने वालों की संख्या में 17 फीसदी बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 2015 में यह 289 थी जो 2016 में 337 हो गई। 2015 में हुए हमलों में 500 घायल हुए। वहीं 2016 में आंकड़ा 636 छू गया। इसके उलट पाकिस्तान में आतंकी हमलों की संख्या घट गई। 2015 में पाकिस्तान 1,010 हमले हुए जो कि 2016 में 734 के मुकाबले कम थे।

इस रिपोर्ट में एक चौकाने वाली बात भी सामने आई है। इसमें नक्सल को तीसरा सबसे खतरनाक आतंकी संगठन बताया है और इसका नंबर आईएस और तालिबान के बाद रखा गया है। नक्सल को बोको हरम से ज्यादा खतरनाक बताया गया है। सीपीआई (माओवादी) का 2016 में हुए 336 हमलों में नाम आया। इसमें 174 लोगों की जान गई और 141 जख्मी हुए। 2016 का सबसे खतरनाक हमला बिहार में हुआ था।

इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि भारत में आतंकी साजिशों को अंजाम वाले 52 ग्रुप हैं जो कि बाकि देशों के मुकाबले सबसे अधिक है। देशभर में आतंक फैलाने के पीछे 2016 में 334 संगठन की पहचान हुई है। यह संख्या 2015 में 288 थी।

 

TOPPOPULARRECENT