Wednesday , August 23 2017
Home / Crime / ISIS की नए लड़ाकों को हिदायतें, कहा: मुजाहिदीन बनना है तो इस्लाम छोड़ो क्रिस्चियन बनो।

ISIS की नए लड़ाकों को हिदायतें, कहा: मुजाहिदीन बनना है तो इस्लाम छोड़ो क्रिस्चियन बनो।

इस्लामिक स्टेट यानी ISIS ने लडके बनने की चाहत रखने वाले नए लड़कों को हिदायत दी है कि वह कहीं भी हमला करने के लिए जाएँ तो भीड़ में बाकियों जैसा लगें के लिए अपनी दाढ़ी कटवा कर रखें और क्रिस्चियन लोगों की तरह ही कपडे पहनें। यह हिदायतें ISIS ने ऑनलाइन जारी की गयी एक 58 पन्नों की मैन्युअल बुक के जरिये कही है।

इस मैन्युअल में कहा गया है कि आज के दौर में जब हर देश की इंटेलिजेंस और पुलिस एजेंसियां चौकन्नी हो गयी हैं ऐसे में खुद की हिफाज़त रखने के लिए कुछ ऐसी बुनियादी बातें हैं जोकि लड़ाकों को ध्यान में रखनी चाहियें।

हमने अपने गैर अरबी भाइयों को ध्यान में रखते हुए इन हिदायतों को तैयार किया है ताकि सभी अपने मिशन में कामयाबी हासिल करें और अपनी ज़िन्दगी का मकसद पूरा करें। मैन्युअल में कहा गया है की बेहतर होगा अगर लड़ाके कुर्ता ना पहनें और ना ही अपने साथ धिक्र या कुरान रखें। इसके इलावा मिसवाक का इस्तेमाल भी ना करें तो अच्छा रहेगा।

जिहादियों को गले में क्रिश्चन लोगों की तरह क्रॉस( सलीब) पहनने को कहा गया है ताकि देखने में वो बिलकुल भी इस्लाम से जुड़े लोग न लगें, लेकिन इस बात का ध्यान रखने को भी कहा गया है कि अगर उनके पासपोर्ट पर दर्ज उनका नाम मुस्लिम है तो क्रॉस न पहनें क्यूंकि इस से पुलिस और सिक्योरिटी वालों को शक हो जायेगा।

इन सब के इलावा भी इस मैन्युअल में बहुत सी हिदायतें हैं जिससे साफ़ जाहिर होता है कि ISIS आने वाले वक़्त में और भी खतरनाक घटनाओं को अंजाम दे सकती है।

गौरतलब है कि आज तक इस्लाम के नाम पर लोगों को मूर्ख बना कर कत्लेआम करने वाली ISIS कैसे इस्लाम की निशानियों को खुद से दूर करती नज़र आ रही है शायद इसलिए क्यूंकि लोगों से अब गैर मुसलामानों ने भी इस्लाम को समझने के लिए कुरान और बाकी ग्रंथ पढ़ने शुरू कर दिए हैं और उन्हें समझ आने लगा है कि इस्लाम वैसा नहीं जैसा दहशतगर्द इसे दिखाना चाहते हैं।

TOPPOPULARRECENT