Monday , August 21 2017
Home / World / ISIS की पहली खातून जो बनेगी सुसाइड बॉम्बर….

ISIS की पहली खातून जो बनेगी सुसाइड बॉम्बर….

लंदन: मिसेज टेरर नाम से मशहूर इस खातून ने इन दिनों ब्रिटिश खुफिया एजेंसियों की नींद उडा रखी है। खबर है कि ब्रिटेन के केंट की रहने वाली और दो बच्चों की मां सैली जॉन्स दहशतगर्द तंज़ीम आईएसआईएस की पहली खातून सुसाइड बॉम्बर बन सकती है। सैली 2013 के आखिर में अपने छोटे बच्चे जोजो के साथ सीरिया में रह रही है। सैली के सुसाइड बॉम्बर बनने का इम्कान उसकी पोस्ट को देखकर हुआ है।

47 साल की इस दहशतगर्द ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में कहा है कि वह आईएसआईएस की पहली खातून फिदायीन हमलावर बनेगी। माना जा रहा है कि वह सीरिया में है और ख्वातीन को फिदायीन हमलों की ट्रेनिंग दे रही है। दो साल पहले तक वह ब्रिटेन में ही रहती थी। इसके बाद 10 साल के बेटे को लेकर सीरिया गई और आईएस में शामिल हो गई।

इस खातून ने इस्लाम भी कबूल कर लिया है। पोस्ट में उसने कहा कि मैं जानती हूं कि मैं क्या कर रही हूं। वह आगे लिखती है कि जन्नत नसीब हो, इसके लिए कीमत तो चुकानी ही पडेगी। इसी पोस्ट में आगे लिखा, मैं चेचन्या की पहली खातून सुसाइड बॉम्बर हावा बारायेव को खिराज़ ए अकीदत पेशकर खुद को उडा लूंगी। मैं आईएस की पहली महिला सुसाइड बॉम्बर बनूंगी।

साल 2000 में रूस के साथ चेचन बागियों की लडाई में हावा बारायेव पहली खातून सुसाइड बॉम्बर बनी थी। हावा ने खुद को बम से उडा लिया था। इस हमले में रूसी आर्मी के 27 फौजी मारे गए थे।

TOPPOPULARRECENT