Tuesday , October 17 2017
Home / Hyderabad News / ISIS में ऑनलाइन शरीक कराने वाली खातून गिरफ्तार

ISIS में ऑनलाइन शरीक कराने वाली खातून गिरफ्तार

हैदराबाद:मुत्तहदा अरब अमीरात (यूएई) ने दहशतगर्द ग्रुप आईएसआईएस के लिए मुबय्यना तौर पर शरीक कराने में शामिल एक हिंदुस्तानी खातून को आज जिलावतनी कर दिया जिसके बाद उसे यहां गिरफ्तार कर लिया गया.

ओहदेदारों ने बताया कि 37 साल की अफ्शा जबीन उर्फ निकी जोसफ हैदराबाद की रहने वाली है लेकिन वह सोशल मीडिया की मदद से नौजवानों को आईएसआईएस में शामिल होने के लिए लुभाने के लिए खुद को ब्रिटिश शहरी बताती थी. उसे उसके शौहर और बच्चों के साथ जिलावतनी / मुल्क बदर कर दिया गया.

अफ्शा को अबु धाबी में पकडा गया और शुरुआती पूछताछ के बाद उसे हैदराबाद भेज दिया गया. हैदराबाद के हवाईअड्डे पर पहुंचते ही उसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया और उससे पूछताछ की. इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया और उसके खिलाफ एक मामला दर्ज किया.

पुलिस ने यहां एक प्रेस रिलीज़ में कहा, आज काबिल एतेमाद इत्तेला की बुनियाद पर दुबई से यहां के राजीव गांधी इंटरनैश्ल हवाई अड्डे पर पहुंचने के साथ ही अफ्शा जबीन को हिरासत में ले लिया गया. वह सलमान के मामले में साथी मुल्ज़िम है, उसे गिरफ्तार करने के बाद अदालत में पेश किया गया और मामले की जांच की जा रही है.

हैदराबाद के रहने वाले सलमान मोहिउद्दीन को इस साल हवाईअड्डे पर गिरफ्तार किया गया था. वह तब तुर्की के रास्ते सीरिया जाने के लिए दुबई की परवाज़ में सवार होने की तैयारी कर रहा था.

सलमान की गिरफ्तारी के बाद अफ्शा हिंदुस्तानी सेक्युरिटी एजेंसियों की जांच के घेरे में आ गयी थी क्योंकि सलमान ने पूछताछ के दौरान मुबय्यना तौर पर कबूल किया था कि उसने दुबई में रहने वाली निकी जोसफ नाम की एक ब्रिटिश शहरी के साथ मिलकर कई फेसबुक खाते बनाए थे. सलमान ने कहा था कि अफ्शा ने उसे मुतास्सिर किया था और सीरिया जाने के लिए उसे दुबई में अपने पास आने के लिए कहा था.

हिंदुस्तानी सेक्युरिटी एजेंसियों ने अपने ब्रिटिश हममंसूबो को सलमान के दावों की मालूमात दी लेकिन इ‍तिहाई जांच में अफ्शा का हिंदुस्तानी शहरी होने का पता चला. बाद में पता चला कि अफ्शा यूएई में कहीं रह रही है जिसके बाद वहां के ओहदेदारों को इसकी मालूमात दी गयी. आफीसरों के मुताबिक सलमान और अफ्शा दोनों ने मुबय्यना तौर पर सोशल मीडिया के ज़रिये कई नौजवानो को आईएसआईएस की सरगर्मियों और जेहाद के लिये लुभाने के लिए मुतास्सिर किया था.

TOPPOPULARRECENT