Sunday , September 24 2017
Home / Khaas Khabar / हेयर स्टाइलिस्ट जावेद हबीब के सैलून विज्ञापन पर विवाद, हिंदू संगठनों ने किया हंगामा

हेयर स्टाइलिस्ट जावेद हबीब के सैलून विज्ञापन पर विवाद, हिंदू संगठनों ने किया हंगामा

धनबाद : हेयर स्टाइलिस्ट जावेद हबीब ने अपने  सैलून के प्रचार के लिए देवी- देवताओं की तस्वीर का इस्तेमाल किया था. विज्ञापन में देवी दुर्गा, लक्ष्मी, सरस्वती, कार्तिक, गणेशजी को भी सैलून में बैठाया गया था. कोई फेशियल करा रहे हैं,कोई मेकअप करा रहा है, कोई पैसे गिन रहा है.  विज्ञापन की टैगलाइन रखी गयी थी  भगवान भी जावेद हबीब के सैलून में आते है. इसे लेकर अब जमकर हंगामा हो रहा है. धनबाद में गौ रक्षा दल ने इस विज्ञापन को लेकर जमकर हंगामा किया. जावेद हबीब का पुतला फूंका गया. 
सैलून चेन से जुड़ी जावेद हबीब कंपनी का विरोध कर रहे गोरक्षा दल, बजरंग दल व लोक समता पार्टी के कार्यकर्ताओं पर शुक्रवार को पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया। लाठी चार्ज में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के जिलाध्यक्ष संजय कुशवाहा व गो रक्षा दल के सुमंत शर्मा को चोटिल हो गए। पुलिस ने कुशवाहा व शर्मा के साथ नीरज भगत, अरिंदम विश्वास व विवेक सिंह को गिरफ्तार कर लिया। तीनों सगंठनों के कार्यकर्ताओं ने हिन्दू देवी-देवताओं के अपमान करने का आरोप लगाते हुए हबीब ब्रांड के सैलून को बंद कराने की मांग की। जावेद हबीब पर हिन्दू देवी-देवताओं के चित्र बनाकर ब्रांड का प्रचार करने का आरोप है। चार दिनों से यह मामला सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है। पुलिस इस पूरे घटनाक्रम पर कड़ी नजर रख रही है. सूत्रों की मानें तो पुलिस ने कुछ लोगों पर  बल का भी प्रयोग किया है. 
कोलकाता में  विज्ञापन छपते ही इसे लेकर जोरदार हंगामा शुरू हो गया. बंगाल में दुर्गापूजा की धूम शुरू हो गयी. इसे ध्यान में रखते हुए विज्ञापन बनाया गया था.  सोशल मीडिया पर इसे लेकर बवाल मचा अब सड़कर पर भी हंगामा शुरू हो गया है. कई राज्यों में जावेद ने सैलून खोल रहा है.
उन्नाव में हिंदू जागरण मंच के पदाधिकारियों ने एसपी ऑफिस पहुंचकर आरोपित पर कार्रवाई करने की मांग की है ।
उधर, मुम्बई में भी जावेद हबीब के सैलून में देवी-देवताओं के पोस्टर लगाने के मामले पर शुक्रवार को जिले के हिन्दू संगठन भी आंदोलित हो गए। हिन्दू जागरण मंच के प्रांतीय मंत्री विमल द्विवेदी की अगुवाई में कार्यकर्ता मोती नगर स्थित जावेद हबीब हेयर एंड ब्यूटी सैलून पर पहुंचे और तोड़फोड़ करते हुए उसको बंद करा दिया। प्रांतीय मंत्री ने कहा कि जावेद हबीब ने हिन्दू देवी देवताओं का अपमान किया, इसी से उनके प्रतिष्ठान को बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि कोई हिन्दू उनके सैलून पर नहीं जाएगा। प्रदर्शन करने वालों में जिला अध्यक्ष अजय त्रिवेदी, नगर अध्यक्ष विकास ¨सह सेंगर, युवा प्रभारी मनीष अवस्थी, नगर महामंत्री धर्मेंद्र शुक्ला, उपाध्यक्ष शिवम आजाद आदि प्रदर्शन में शामिल रहे।
इस विवादित विज्ञापन को लेकर वाराणसी में भी मामला दर्ज कराया गया है। आईपीसी की धारा 153A के तहत जावेद हबीब के अलावा अंग्रेजी अखबार के समाचार संपादक और दो अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस विवेचना कर रही है।
इस विज्ञापन के विवाद को  बढ़ता देखकर जावेद हबीब ने माफी मांग ली उन्होंने कहा, हमारे सहयोगी ने एक विज्ञापन जारी किया. हमें इस विज्ञापन की जानकारी नहीं थी और ना ही इस विषय पर कोई सलाह ली गयी. हम माफी चाहते हैं. मेरा तो सिर्फ एक ही धर्म है मेरी कैंची.
TOPPOPULARRECENT