Thursday , August 17 2017
Home / Jharkhand News / भाजपा शासित झारखण्ड के अस्पताल में नहीं मिला स्ट्रेचर, पिता को खींचना पड़ा ऑक्सीजन सिलेंडर

भाजपा शासित झारखण्ड के अस्पताल में नहीं मिला स्ट्रेचर, पिता को खींचना पड़ा ऑक्सीजन सिलेंडर

रांची: भाजपा शासित झारखंड के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स को देश के सबसे सुविधाजनक अस्पतालों में गिना जाता है। लेकिन उससे जुड़ा एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने उसके सारे पोल-पट्टी खोल दी है। मरीजों की माने तो यहां उन्हें स्ट्रेचर तक की सुविधाएं नहीं दी जाती हैं।

मंगलवार को यहां एक ऐसी घटना हुई जिसने राज्य केस्वास्थ्य व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर दिया। दरअसल, 25 अप्रैल को कोडरमा की रहने वाली खुशबू कुमारी ने प्री-मेच्योर जुड़वां बच्चों को जन्म दिया। खुशबु चौथे को माले पर गहन शिशु चिकित्सा यूनिट में रखा गया है। डॉक्टर ने मंगलवार को एक्स-रे कराने को कहा। इसके बाद खुशबु के पिता गौतम ने अस्पताल स्टाफ से कहा कि वो बच्चे को लेकर चले। इस स्टाफ ने कहा कि कि एक्स-रे ही तो कराना है इसलिए खुद लेकर चले जाओ।

इसके बाद गौतम ने मजबुरन खुद ऑक्सीजन सिलेंडर खुद खींचा। उनके पीछे-पीछे उनकी मां बच्चे को गोद में लेकर चलती रहीं। इस दौरान सिलेंडर की ट्रॉली का पहिया बार-बार निकलता रहा और बार-बार वो उसे संभालकर खींचते रहे। इस तरह तीन माले उतरने और फिर चढ़ने में हर पल गौतम को यही डर सताता रहा की कहीं अगर सिलेंडर उनके हाथों से छूटा तो बच्चे की सांस टूट जाएगी।

हालांकि राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी से जब इन असुविधाओं के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इसे नकार दिया। लेकिन जब उन्हें घटना से जुड़ी ये तस्वीर दिखाई तो उन्होंने कहा कि वे इसके बारे में पता करवाएंगे की मामले की असल हकीकत क्या है।

TOPPOPULARRECENT