Tuesday , September 26 2017
Home / Delhi News / JNU मामला: निष्कासित हो सकते हैं कन्हैया, उमर खालिद समेत कई छात्र

JNU मामला: निष्कासित हो सकते हैं कन्हैया, उमर खालिद समेत कई छात्र

jnu

नई दिल्ली। जवाहलाल नेहरू विश्वविद्यालय में राष्ट्रविरोधी नारे के आरोपी रहे छात्रों का निष्कासन तय माना जा रहा है। राष्ट्रविरोधी नारे लगाने की जांच को लेकर बनी आंतरिक समिति ने 21 छात्रों को दोषी पाया है। सूत्रों का कहना है कि 5 छात्रों का निष्कासन तय है।

9 फरवरी को अफजल गुरु के समर्थन में नारे लगाने पर शुरू हुए विवाद के बाद राजद्रोह के मामले में जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार, उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य को गिरफ्तार किया गया था। सभी छात्र अभी छह महीने की जमानत पर बाहर हैं।

टीवी रिपोर्ट्स के अनुसार, समिति ने 21 छात्रों को दोषी पाया है और उसने 5 छात्रों को निकालने के लिए कहा है। जिसमें जेएनयू छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार, उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य पर कार्रवाई तय है, इन्हें दो सेमेस्टर के लिए निष्कासित किया जा सकता है। निष्कासन के दौरान इन छात्रों को हॉस्टल की सुविधा भी नहीं मिलेगी।

जेएनयू छात्रसंघ के जनरल सेक्रटरी रामा नागा, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष आशुतोष के खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है। इसके अलावा एबीवीपी नेता और जेएनयू छात्रसंघ के जॉइंट सेक्रटरी सौरभ शर्मा के खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है।

दोषी पाए गए छात्रों में से कुछ पर फाइन लगाकर उन्हें छोड़ा जा सकता है। सजा को लेकर आखिरी फैसला जेएनयू वीसी के हाथ में है। इस बात का फैसला आज शाम तक होने का अनुमान है।

TOPPOPULARRECENT