Thursday , September 21 2017
Home / Khaas Khabar / लापता नजीब को ढूंढने के लिए दिल्ली पुलिस लेगी मस्ज़िदों की मदद, करवाएगी एलान

लापता नजीब को ढूंढने के लिए दिल्ली पुलिस लेगी मस्ज़िदों की मदद, करवाएगी एलान

जेएनयू छात्र नजीब अहमद को लापता हुए करीब 200 दिन गुज़र चुके हैं लेकिन अभी तक उसका सुराग न तो पुलिस ढूंढ पाई है और न ही यूनिवर्सिटी प्रशासन।

इस बीच अब दिल्ली पुलिस ने मस्जिदों का सहारा लिया है। दरअसल पुलिस ने अब दिल्ली और पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश मस्जिदों से नजीब के बारे में नियमित तौर पर ऐलान करने को कहा है।

बता दें कि पुलिस ने उसके बारे में किसी भी तरह की सूचना देने के लिए 10 लाख रुपये के ईनाम की घोषणा कर रखी है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘इस मामले पर कई टीमों के काम करने के बावजूद हम कोई भी सुराग पाने में नाकाम रहे। इसलिए मस्जिदों से मदद मांगी गई है।

जांच अधिकारियों ने चांदनी चौक में फतेहपुरी मस्जिद के इमाम से मुलाकात की और उनसे नमाज के दौरान नजीब के बारे में ऐलान करने का अनुरोध किया।

पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘‘हमने लोगों से नजीब के बारे में कोई भी सुराग या सूचना साझा करने की अपील करने के लिए कहा। हमने दिल्ली, पड़ोसी इलाकों और उत्तर प्रदेश में बदाउं, बरेली जैसे कुछ शहरों में नियमित तौर पर ऐलान करने का आग्रह किया है।’’

इस बीच, नजीब के परिवार के सदस्यों ने कहा कि उनका पुलिस से भरोसा उठ गया है। नजीब के भाई मुजीब ने कहा, ‘‘पहले दिन की तरह आज भी नजीब के बारे में हमारे पास कोई सुराग नहीं है।’’

उन्होंने कहा कि पुलिस ने उनके भाई का पता लगाने के लिए कुछ खास नहीं किया और केवल उन्हें ‘‘प्रताड़ित’’ किया है। इन सबके बीच भी परिवार को अब भी नजीब की वापसी की उम्मीद है। जब भी उनके परिवार के सदस्यों के पास किसी अनजान नंबर से फोन आता है तो उन्हें हमेशा लगता है कि यह नजीब हो सकता है।

TOPPOPULARRECENT