Thursday , May 25 2017
Home / Uttar Pradesh / रामदेव की कम्पनी ने नहीं दिया मेहनताना तो अदालत ने भेजा नोटिस

रामदेव की कम्पनी ने नहीं दिया मेहनताना तो अदालत ने भेजा नोटिस

अलीगढ़। पतंजलि में काम करने वालों को मेहनाता न देने के मामले में अदालत ने योग गुरु सहित अन्य आरोपियों को तलब किया है। इस मामले में एक याचिका दायर की गई थी।

गोंडा के गांव रुदायन तारापुर के ऋषि सारस्वत ने पिछले साल सीजेएम न्यायालय में याचिका दायर कर रामदेव, पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के सीएमडी रामभरत यादव, सीएमडी राकेश शर्मा घनपुरा आदि को आरोपी बनाकर मुकदमे का अनुरोध किया था।

याचिका में आरोप है कि योग गुरु के भारत स्वाभिमान ट्रस्ट पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड, युवा भारत किसान संगठन पतंजलि योग समिति संगठन में बतौर एजेंट 2010 में कार्य किया। 5000 रुपये प्रतिमाह मानदेय व इंसेंटिव तय था। इसके बाद भी उसे मेहनताने के करीब दो लाख रुपये कंपनी ने नहीं दिए गए, जब वह रुपये मांगने कंपनी दफ्तर गया तो उसे धमकियां दी जाने लगीं।

प्रकरण में दायर याचिका का संज्ञान लेकर कोर्ट ने परिवाद दर्ज कर लिया है। बाद में 30 जुलाई 2016 को कोर्ट ने वाद खारिज कर दिया। इस मामले में वादी के अधिवक्ता सरदार मुकेश सैनी ने बताया कि निचली कोर्ट के आदेश के विरुद्ध जिला एवं सत्र न्यायालय में रिवीजन दाखिल किया गया।

बता दें कि निचली अदालत ने यह याचिका खारिज कर दी थी, जिसके विरुद्ध सत्र न्यायालय में रिवीजन दाखिल हुआ है। अब इस रिवीजन पर अदालत ने यह नोटिस जारी किए हैं।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT