Sunday , July 23 2017
Home / Islami Duniya / लंदन के मेयर सादिक खान ने कहा- ट्रम्प वही बात कर रहे हैं जो IS कर रही है

लंदन के मेयर सादिक खान ने कहा- ट्रम्प वही बात कर रहे हैं जो IS कर रही है

लंदन के मेयर सादिक खान का कहना है कि लंदन में मुसलमानों के खिलाफ नफरत पर आधारित अपराध में वृद्धि ज़रूर हुआ है। लेकिन इसी तरह यहूदियों के खिलाफ और अन्य अपराधों में वृद्धि हुई है। लेकिन उनका कहना था कि लंदन अभी भी दुनिया के सबसे सुरक्षित शहरों में से एक है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

सादिक खान ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के मुस्लिम देशों के नागरिकों को अमेरिका आने पर प्रतिबंध की आलोचना की। उन्होंने कहा कि ‘अगर चरमपंथी इस्लामिक स्टेट यह कहती है कि इस्लाम और पश्चिम एक साथ नहीं चल सकते हैं और पश्चिम मुसलमानों से नफरत करता है। तो मुझे लगता है यह बकवास है। बेशक हम एक दूसरे के साथ रह सकते हैं।

उनके अनुसार डोनाल्ड ट्रम्प जब यह कहते हैं कि इस्लाम और पश्चिम एक साथ नहीं चल सकते, और मुसलमान अमेरिका में नहीं आ सकते तो वह वही बात कर रहे हैं जो आईएस कर रही है।उनका कहना था कि अगर डोनाल्ड ट्रम्प ऐसा कह और कर रहे हैं तो वह आईएस के लिए उनका काम आसान कर रहे हैं।

बीबीसी उर्दू को दिए गए इंटरव्यू में सादिक खान का कहना था कि यह बात सही है कि आतंकवाद की हाल की घटनाओं और नफरत पर आधारित अपराध में वृद्धि के बाद उनका काम कठिन हो गया है। क्योंकि उनके पास संसाधनों की कमी है। हम सरकार से अधिक संसाधनों की मांग कर रहे हैं।

उनके अनुसार उन्हें सरकार से अधिक संसाधनों की मांग इसलिए है ताकि अधिक पुलिस अफसर समुदाय में जाएँ और लोग उन पर विश्वास करें और उन्हें इंटेलीजेंस मुहैया करें।

सादिक खान का कहना था कि ‘लंदन ब्रिज हमला हो या फिन्सबरी पार्क मस्जिद पर हमला ये दोनों आतंकवादी घटनायें थे। तो ऐसे गंभीर अपराधों की कोई वजह तलाश नहीं करनी चाहिए। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हम अपने युवाओं को सही इस्लाम सिखाएं और यह भी कि आपके धर्म के आधार पर कोई आपसे नफरत न करे। ‘
उनका कहना था कि ‘अगर कोई नौजवानों से यह कहे कि पश्चिम आप से नफरत करता है, गैर मुस्लिम आप से नफरत करते हैं और आप जिंदगी और आखरत में सफल होंगे अगर आप आतंकवाद की ओर आएं, तो यह सब बकवास है, यह इस्लाम नहीं है। हम सबकी जिम्मेदारी है कि न केवल अपने युवाओं को सही रास्ते पर लगायें बल्कि अतीत से सबक भी सीखें। ‘

TOPPOPULARRECENT