Wednesday , June 28 2017
Home / Uttar Pradesh / रोज़ी-रोटी से जूझते भूख हड़ताल पर बैठे मेरठ के गोश्त कारोबारी, दुकान खुलवाने और लाइसेंस देने की मांग

रोज़ी-रोटी से जूझते भूख हड़ताल पर बैठे मेरठ के गोश्त कारोबारी, दुकान खुलवाने और लाइसेंस देने की मांग

उत्तरप्रदेश के मेरठ में मीट विक्रेता हड़ताल पर चले गए हैं। सोमवार को युवा सेवा समिति के अध्यक्ष बदर अली के कई लोग मीट आपूर्ति और विक्रेताओं के लाइसेंस बनवाने के लिए भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं।

मीट विक्रेताओं की मांग है कि हाईकोर्ट का फ़ैसला आने के बाद अब मेरठ में भी मीट की दुकानें खुलवाईं जाएं और लाइसेंस दिया जाए।

बता दें कि हाल ही में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने योगी सरकार को फटकार लगाते हुए कहा था कि लोगों को नॉनवेज खाने से सरकार रोक नहीं सकती है। मामले पर कोर्ट के संज्ञान के बाद ही कई मीट विक्रेताओं ने हड़ताल शुरू की है।

वहीं, मेरठ के किठौर थाना क्षेत्र के शाहजहांपुर में सोमवार को अवैध रूप से मीट बेचने वाले छह लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इनमें तीन किठौर और तीन शहाजहांपुर से है। इसके बाद मीट व्यापारी सड़क पर उतर गए और जमकर प्रदर्शन किया।

मीट व्यापारियों ने हंगामा करते हुए रोड जाम किया और थाने घेराव भी किया। जब मीट व्यापारी नहीं माने तो पुलिस ने लाठीचार्ज करना शुरू कर दिया।

काफी हंगामे के बाद पुलिस ने सभी आरोपियों को छोड़ दिया। ये पहला मौका नहीं है जब पुलिस ने अवैध रूप मीट बेचने के आरोप में किसी को हिरासत में लिया हो।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT