Saturday , October 21 2017
Home / Crime / मेवात में एक और मुस्लिम युवक का फर्ज़ी एनकाउंटर

मेवात में एक और मुस्लिम युवक का फर्ज़ी एनकाउंटर

हरियाणा के नूह का मुनफैद देश के चरित्र पर सवाल उठाने वाली इस लिस्ट में जुड़ने वाला एक नया बद्किस्मत है। कथित रूप से मुनफैद नाम के एक युवक का पुलिस द्वारा फर्ज़ी एनकाउंटर कर दिया गया। पिछले कुछ सालों में हरियाणा के नूह और फरीदाबाद जिलों में मुस्लिम युवाओं के पुलिस एनकाउंटर की घटनाओं में काफी बढ़ोतरी आई है। केवल नूह जिले में ही में 11 पुलिस एनकाउंटर की बात सामने आई है जिसमें 15 लोगों की मौत हुई है।

ये मामला देर रात 16 तरीख को खड़खड़ी गांव के मुनफैद उर्फ चौड़ा की गोली मारकर हत्या कर दी गई। नूंह पुलिस ने जहां इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है, वहीं मृतक के पिता इस्लाम ने पुलिस पर मुनफैद का फर्ज़ी एनकाउंटर करने का आरोप लगाया है।

मीडिया में प्रकाशित ख़बरों की माने तो घटनास्थल (तावडू घाटी) के पास के गांव रोज़केमेव के लोगों ने बताया कि मुनफैद अपने दो दोस्तों के साथ पुलिस ऑफिसर्स से मिलने रेवाड़ी गया था और वापस लौटते समय बीच रास्ते में ही हरे रंग के बोलेरो में आए पुलिस वालों ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी।

मुनफैद के पिता इस्लाम ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस और डॉक्टर मुनफैद के शव से सबूत मिटाने की कोशिश कर रहे थे। जब इस्लाम ने उन्हें मुनफैद के शव से कपड़े निकालते हुए देखा और इसका विरोध किया तो उन्हें गाली देकर वहां से निकल जाने को कहा गया।

मुनफैद के पिता ने 16 सितम्बर को दोपहर तीन बजे पुलिस को एक लिखित बयान दिया जिसमें उन्होंने CIA स्टाफ के 6 लोगों के मुनफैद की हत्या में शामिल होने की बात कही है। S.P. मेवात नाज़नीन भसीन ने इस्लाम को भरोसा दिलाया कि उनके बयान के आधार पर FIR दर्ज की जाएगी।

वही इस मामले में पुलिस ने सीआईए (Central Investigation Agency, Haryana) के इंस्पेक्टर मस्ताना के बयान के आधार पर हरियाणा पुलिस ने नूह जिले के तावडू पुलिस थाने में इस मामले में FIR दर्ज की।

TOPPOPULARRECENT