Tuesday , July 25 2017
Home / Khaas Khabar / ख़ुद का खर्चे पूरा करने के लिए सरकारी कंपनियों से वसूली कर रहे हैं PM मोदी

ख़ुद का खर्चे पूरा करने के लिए सरकारी कंपनियों से वसूली कर रहे हैं PM मोदी

केंद्र में बैठी मोदी सरकार ने पब्लिक सेक्टर की कंपनियों को शायद ‘दुधारू गाय’ समझ लिया है। मोदी सरकार के लिए इन कंपनियों से किसी भी काम के लिए पैसे की डिमांड करना आम बात हो गई है।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, गुजरात में बनवाई जा रही सरदार वल्लभ भाई पटेल की विशालकाय प्रतिमा के लिए केंद्र सरकार ने पब्लिक सेक्टर की कंपनियों से 200 करोड़ रुपए देने की मांग की है।

हालाँकि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। सरकार को जब भी किसी काम के लिए पैसों की जरूरत होती है तो वह इन कंपनियों के ख़जाने पर हमला बोलकर पैसे निकालने की कोशिश करते हैं।

गेल (गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया) के एक अफसर का कहना है कि केंद्र सरकार ने मार्च महीने में पेट्रोलियम मंत्रालय ने पब्लिक सेक्टर की आयल कंपनियों को निर्देश ज़ारी किए गए थे, जिसमें ओएनजीसी और आईओसी से 50-50 करोड़ रुपए देने के लिए कहा गया।

वहीँ दूसरी तेल कंपनियों से 25-25 करोड़ रुपए की मांग की गई। आईओसी ने तो अपने हिस्से के 50 करोड़ रुपए ज़ारी करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।

इसके अलावा हाल ही में मोदी सरकार के केंद्र में तीन साल पूरे होने पर देश के 543 जिलों में हो रहे फेस्ट का खर्चा भी सरकारी कंपनियां ही उठा रही हैं।

TOPPOPULARRECENT