Tuesday , August 22 2017
Home / Khaas Khabar / जानिए, कितनी सीटों पर AIMIM की वजह से मुस्लिम उम्मीदवार हारे

जानिए, कितनी सीटों पर AIMIM की वजह से मुस्लिम उम्मीदवार हारे

यूपी चुनाव का नतीजा कल आ चुका है। भाजपा पहली बार पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है। वहीँ सूबे में अपनी मज़बूत सियासी ज़मीन और रसूख रखने वाली बसपा और सपा का सूपड़ा बिलकुल साफ़ हो चुका है।

अब दोनों पार्टियों में मीटिंग रखी जाएगी। हार की समीक्षा होगी। कमी का आकलन होगा। ज़िम्मेदार पदाधिकारियों पर गाज गिरेगी। और फिर हार पर कुछ अनुमान और कुछ आकड़ों की रौशनी में बात की जाएगी।

लेकिन इन सब के बीच एक बड़ा सवाल सूबे की विधानसभा में मुस्लिमों के प्रतिनिधित्व का है। ऐसा पहली बार हो रहा है जब विधानसभा में मुस्लिम विधायकों की संख्या सबसे कम होगी और सरकार में शून्य।

यूँ तो यूपी में 25 मुस्लिम उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है लेकिन ये सभी सरकार में नहीं होंगे क्योंकि भाजपा ने इस बार एक भी मुस्लिम को अपना उम्मीदवार नहीं बनाया था।

हालाँकि हैरान सभी हैं मुस्लिमो के वोट को लेकर कि कहाँ बिखराव हुआ, कहाँ गड़बड़ी हुई और कौन सी पार्टी ‘वोट कटुआ’ साबित हुई।

फिलहाल इन सवालों के तथ्यात्मक तरीके से जवाब आना बाकी है लेकिन शुरूआती रिपोर्ट के बाद प्राप्त वोटों के आकड़े के अनुसार ‘वोट कटुवा’ पार्टी के तौर पर सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम का नाम ही सबसे ऊपर आ रहा है।

एआईएमआईएम ‘वोट कटुवा’ पार्टी कैसे?

कांथ विधानसभा- इस विधानसभा सीट पर भाजपा के आर. के. सिंह ने 76307 वोट हासिल करके जीत दर्ज की है। वहीँ 73959 वोट पाकर दूसरे नंबर पर आए हैं सपा उम्मीदवार अनिसुर्रहमान महज़ 2348 वोटों से हारे हैं अनिसुर्रहमान।

लेकिन इसी सीट पर एआईएमआईएम प्रत्याशी फैज़ुल्लाह चौधरी ने पाए हैं 22908। ऐसे में साफ नज़र अगर एआईएमआईएम अपना उम्मीदवार न उतारती तो सपा के अनिसुर्रहमान के बारी मतों से जीतने की काफी उम्मीद थी।

टांडा विधानसभा- इस सीट से अज़ीमुल हक़ पहलवान वर्तमान एमएलए थे। लेकिन इस बार संजू देवी ने यहाँ से 1725 के मार्जिन से बाज़ी मारी है। वहीँ एआईएमआईएम प्रत्याशी को मिले हैं 2070 वोट। यहाँ संजू देवी को 74768 वोट मिले जबकि अज़ीमुल हक़ पहलवान को 73043 वोट।

गैनसारी विधानसभा- इस सीट से भाजपा के एस. कुमार सिंह ने 55716 वोट हासिल कर 2303 मार्जिन से जीत दर्ज की है। वहीँ दूसरे नंबर पर 53413 वोटों के साथ बसपा के अलाउद्दीन रहे। लेकिन एआईएमआईएम प्रत्याशी मंज़ूर आलम खान यहाँ 3160 वोट दिए गए। ऐसे में एआईएमआईएम की गैरमौजूदगी में बसपा की जीत से मुंह नहीं मोड़ा जा सकता।

सरस्वती विधासभा- इस सीट पर भाजपा प्रत्याशी राम फेरहान 79437 वोट पाकर महज़ 445 वोटों की मार्जिन से जीत हासिल की। दूसरे नंबर पर 78992 वोटों के साथ सपा मोहम्मद रमजान रहे। वहीँ एआईएमआईएम उम्मीदवार ने यहाँ पाए 2933 वोट।

  • नवेद अख्तर

 

TOPPOPULARRECENT