Wednesday , September 20 2017
Home / Islami Duniya / आतंक से बचने के लिए दो हफ्तों में 2.70 लाख रोहिंग्या मुसलमानों ने छोड़ा घर-बार: संयुक्त राष्ट्र

आतंक से बचने के लिए दो हफ्तों में 2.70 लाख रोहिंग्या मुसलमानों ने छोड़ा घर-बार: संयुक्त राष्ट्र

FILE - In this Wednesday, May 20, 2015 file photo, migrants sit on their boat as they wait to be rescued by Acehnese fishermen on the sea off East Aceh, Indonesia. Many of the thousands of migrants abandoned at sea in Southeast Asia this month are Rohingya Muslims who fled their home country of Myanmar. The Rohingya are a Muslim minority in predominantly Buddhist Myanmar, also known as Burma. Numbering around 1.3 million, they are concentrated in western Rakhine state, which neighbors Bangladesh. (AP Photo/S. Yulinnas, File)

जिनेवा: संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी ने कहा कि पिछले दो हफ्तों में म्यांमार से दो लाख 70 हजार रोहंगिया शरणार्थियों को घर से भागने पर मजबूर किया गया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

यूएनएचसीआर ने कल कहा है कि अक्सर म्यांमार से भागने वाले रोहिंग्या मुस्लिम बांग्लादेश गए हैं। वे बांग्लादेश में दो शिविरों में रह रहे हैं जहां उनकी हालत बहुत खराब है।

उन्होंने कहा कि 25 अगस्त तक बांग्लादेश में 25,000 रोहिंगिया मुसलमान दो शरणार्थी शिविरों में रहते थे, लेकिन पिछले दो हफ्तों में शरणार्थियों की संख्या 70,000 से अधिक हो गई है। लोगों को वहां रहने के लिए जमीन और छतें कम पड़ गई हैं।

शरण चाहने वालों में कई महिलाएं हैं वह कई नवजात शिशुओं के साथ आए हैं जो भूखे और कमज़ोर हैं। संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि जान बचाकर भागने वाले लोगों की संख्या तीन लाख तक पहुंच सकती है।

TOPPOPULARRECENT