Friday , September 22 2017
Home / Khaas Khabar / म्यांमार: राहत शिविरों में दाने-दाने को मोहताज रोहिंग्या मुसलमान

म्यांमार: राहत शिविरों में दाने-दाने को मोहताज रोहिंग्या मुसलमान

म्यांमार में रोहिंग्या विद्रोहियों और सुरक्षाबलों के बीच टकराव के बाद विस्थापित रोहिंग्या मुस्लिमों के सामने खाने-पीने और स्वास्थ्य सेवाओं का संकट खड़ा हो गया है.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार म्यांमार सरकार द्वारा सहायता एजेंसियों पर रोहिंग्या विद्रोहियों का समर्थन करने का आरोप लगाए जाने के बाद संयुक्त राष्ट्र और अन्य समूहों ने अपनी गतिविधियां निलंबित कर दी हैं.

बीते शुक्रवार को रोहिंग्या विद्रोहियों ने रखाइन प्रांत में पुलिस चौकियों और एक सैन्य अड्डे को निशाना बनाया था. इसके बाद छिड़े संघर्ष में अब तक 400 लोग मारे जा चुके हैं. सं

युक्त राष्ट्र की मानवीय सहायता समन्वय कार्यालय के प्रवक्ता पियरे पेरोन ने कहा, ‘रखाइन राज्य में सहायता गतिविधियों में व्यवधान आने से कई लोगों को सामान्य खाद्य सहायता भी नहीं मिल रही है. प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुई हैं.’

सूत्रों के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय सहायता एजेंसियों के कर्मचारी रोहिंग्या मुस्लिमों के बड़े कैंपों में क्लीनिक चलाने से डर रहे हैं, जिससे इनके बंद होने का खतरा बढ़ गया है.

TOPPOPULARRECENT