Sunday , July 23 2017
Home / Delhi News / नेशनल लेवल शूटर आयशा ने किडनैपर्स को गोली मारकर बचाई देवर की जान

नेशनल लेवल शूटर आयशा ने किडनैपर्स को गोली मारकर बचाई देवर की जान

अब आप जो ख़बर पढ़ेंगे वो आपको सीख देगी और सोचने पर भी मजबूर करेगी। इस खबर में अपराध भी है, हिम्मत भी है और सबक भी है कि औरतें कमज़ोर नहीं होती हैं, वो मुश्किल का डटकर सामना भी कर सकती हैं और अपराधियों को सबक भी सिखा सकती हैं ।

खबर दिल्ली से है, 21 साल का आसिफ दिन में दिल्ली यूनिवर्सिटी में अपनी पढ़ाई करता है और रात को अपने जेब खर्च के लिए कैब चलाता है। लेकिन गुरुवार रात उसकी ज़िंदगी की सबसे ख़ौफनाक रात बन गई ।

आसिफ अपने काम के लिए घर से दरियागंज इलाके से बुकिंग लेने जा रहा था। रफी और आकाश नाम के दो लोगों ने उसकी कैब बुक कराई थी। लेकिन दोनों ने आसिफ को तय रूट के बजाए दूसरे रूट से चलने को कहा। जिसका आसिफ ने विरोध किया तो उसे धमकाया गया और मजबूरन आसिफ को बात माननी पड़ी।

दोनों युवक आसिफ़ को भोपरा बॉर्डर के पास ले गए जहां उसके साथ मार-पीट और लूट-पाट की, लेकिन आसिफ़ पास सिर्फ़ 150 रुपये से ज्यादा नहीं मिले। इतने कम रुपए मिलने से दोनों अपराधियों को गुस्सा आ गया और उन्होंने आसिफ़ के घर फोन कर 25 हज़ार की फिरौती मांगी।

किडनैपर्स ने फोनकर आसिफ के भाई फलक शेर आलम से फिरौती की रकम शास्त्री पार्क स्थित इलाके में लाने को कहा। परिवार ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी जिसके बाद पुलिस ने किडनैपर्स को घेरने की तैयारी शुरु कर दी।

फलक अपनी पत्नी आयशा के साथ रकम लेकर किडनैपर्स के पास पहुंचे। इलाके में सादे कपड़ों में पुलिस भी तैनात थी, पुलिस की भनक लगते ही किडनैपर्स फरार हो गए। लेकिन फलक और उनकी पत्नी आयशा ने उनकी गाड़ी का पीछा किया।

आखिर में भजनपुरा के पास जाकर यह चेज खत्म हुई। अब किडनैपर, आयशा और उनके फ़लक एक-दूसरे के आमने-सामने आ गए। आसिफ ने खुद को छुड़ाने की कोशिश की।

इस अफरा-तफरी में आयशा ने मौका पाकर अपनी लाइसेंसी पिस्तौल से किडनैपरों पर गोली चला दी। किडनैपर्स में से एक को गोली कमर में लगी वहीं दूसरे शख्स की टांग पर गोली गली।

आसिफ और फलक दोनों को यकीन ही नहीं हुआ कि आयशा ने सच में गोली चला दी है। वहीं खबर के मुताबिक, गोली चलने के कुछ समय के भीतर ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

आयशा नेशनल लेवल शूटर रह चुकी हैं और अब वह एक कोच हैं। पुलिस के मुताबिक, आयशा की पिस्तौल को सीज कर लिया गया है और मामले की आगे जांच की जा रही है।

पुलिस के मुताबिक आयशा ने अगर सेल्फ डिफेंस में गोली चलाई होगी तो उन्हें कानून के तहत ही सुरक्षा दी जाएगी।

TOPPOPULARRECENT