Monday , July 24 2017
Home / India / गौमांस पर पाबंदी से भड़के भाजपा नेता ने दिया इस्तीफ़ा

गौमांस पर पाबंदी से भड़के भाजपा नेता ने दिया इस्तीफ़ा

मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने पर बीफ पार्टी आयोजित करने की घोषणा करने वाले मेघालय के भाजपा नेता बर्नार्ड एन मराक ने पार्टी छोड़ दी है। वेस्ट गारो हिल्स जिले के पूर्व पार्टी अध्यक्ष बर्नार्ड ने कहा, ‘भाजपा हम पर अपनी विचारधारा थोपने की कोशिश कर रही है, लिहाजा मैंने पार्टी छोड़ दी है।

पिछले साल जनवरी में भाजपा में शामिल हुए बर्नार्ड ने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखा जिसमें कहा गया है कि मोदी सरकार के तीन साल का जश्न मनाने के लिए गोमांस और स्थानीय शराब की पार्टी आयोजित की जाएगी। उन्होंने संवाददाताओं को बताया कि जून के दूसरे हफ्ते में पार्टी की योजना बनाई जा रही थी ताकि गारो लोगों के बीच डर दूर हो सके कि भाजपा 2018 के विधानसभा चुनाव में सत्ता में आने के बाद मांस पर प्रतिबंध लगाएगी।

उन्होंने सवाल किया कि अगर हम मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने के जश्न को अपनी परंपरा के अनुसार मनाते हैं, तो इसमें गलत क्या है? इसके अलावा नॉर्थ गारो हिल्स जिले के भाजपा अध्यक्ष बाचू सी मराक को पार्टी छोड़ने के लिए कहा जा सकता है।

बीजेपी के मेघालय प्रभारी नलिन कोहली ने कहा कि अगर पार्टी की राज्य ईकाई बाचू को नहीं निकालती है, तो वह अपने पद से इस्तीफा दे देंगे। दरअसल, मेघालय ईसाई बहुल राज्य है, जहां खासी, गारो और जयंतिया समुदाय के लोगों के बीच बीफ खाना आम बात है। राज्य भाजपा अध्यक्ष शिबू लन्गदोह ने हालांकि बर्नार्ड के बयान से खुद को दूर कर लिया और इसे उनका व्यक्तिगत दृष्टिकोण कहा।
इससे पहले बर्नार्ड उस समय सुर्खियों में आए थे, जब उन्होंने कहा था कि अगर आगामी मेघालय विधानसभा चुनाव में भाजपा चुनाव जीतती है और सरकार बनती है, तो सूबे में बीफ की कीमत कम की जाएगी।

बर्नार्ड का कहना है कि जून के दूसरे सप्ताह में बीफ पार्टी आयोजित किए जाने की योजना थी ताकि स्थानीय लोगों में इस आशंका को दूर किया जा सके कि भाजपा बीफ खाने पर प्रतिबंध लगाने की कोशिश कर रही है। गारो हिल्स में तेजी से अपनी पैठ बना रही भाजपा को बर्नार्ड ने पार्टी छोड़कर करारा झटका दिया है।

TOPPOPULARRECENT