Monday , September 25 2017
Home / India / बुके के जगह किताब देने की अपील करने वाले मोदी ख़ुद फूलों से कर रहे हैं स्वागत

बुके के जगह किताब देने की अपील करने वाले मोदी ख़ुद फूलों से कर रहे हैं स्वागत

अकसर प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी अपने बयानों के उलट करते नज़र आते हैं । सोशल मीडिया पर भी उनके ऐसे बयान वायरल होते रहते हैं जिनमें उन्होंने पहले कुछ और कहा था और वो खुद कर कुछ और रहे होते हैं ।

ऐसा ही एक ताजा मामला और सामने आया है। सोम,वार 19 जून को एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति पद के लिए रामनाथ कोविंद के नाम की घोषणा की गई। रामनाथ कोविंद के नाम के ऐलान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री कार्यालाय में उनसे मुलाकात की।

इस मुलाकात में पीएम मोदी ने रामनाथ कोविंद का स्वागत फूलों के गुलदस्ते के साथ किया। इस मुलाकात की जानकारी प्रधानमंत्री ने खुद अपने ट्वीटर अकाउंट पर तस्वीर शेयर करते हुए दी। प्रधानमंत्री ने तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- आज रामनाथ कोविंद से मुलाकात की।

इस तस्वीर के सामने आते ही प्रधानमंत्री का दो दिन पहले 17 जून को दिया गया बयान वायरल होने लगा। इस बयान में प्रधानमंत्री ने कहा था- मैं अपील करता हूं कि जब आप किसी से मिलें उसे गुलदस्ते की जगह किताब भेंट करें। ये छोटा सा कदम बड़ा बदलाव ला सकता है। पीएम के इस बयान को प्रधानमंत्री कार्यालय के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट भी किया गया था।

इस ट्वीट के दो दिनों बाद ही प्रधानमंत्री खुद फूलों के गुलदस्ते के साथ रामनाथ कोविंद से मुलाकात करते नजर आ गए। अब यूजर्स उनकी तस्वीर के साथ उनका पुराना ट्वीट रिट्वीट कर रहे हैं।

फेसबुक पर भी उनकी तस्वीर और पुराने ट्वीट को जोड़कर चुटकी ली जा रही है। एक फेसबुक यूजर ने पीएम के पुरानी ट्वीट और ताजा तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा- ‘जो मैं कहता हूं वो नहीं करता.. और जो नहीं कहता वो तो करता हूं ही नहीं!!
बुक भेंट की वकालत करनेवाले पीएम बुके भेंट करते हुए।’

https://www.facebook.com/nitin.thakur009#

TOPPOPULARRECENT