Thursday , September 21 2017
Home / India / मुज़फ़्फ़रनगर दंगे के नाम पर एक बार फिर नफ़रत फैलाने की फ़िराक़ में ABVP

मुज़फ़्फ़रनगर दंगे के नाम पर एक बार फिर नफ़रत फैलाने की फ़िराक़ में ABVP

साल 2013 में यूपी के मुज़्ज़फरनगर में हुए दंगों को लेकर एबीवीपी आज भी लोगों को हिन्दू-मुस्लिम के नाम पर भड़काने की साजिश रच रही है।
इस मामले से जुड़ा एक वीडियो हमारे सामने आया है। वीडियो में दिए गए कैप्शन से पता चलता है की ये दिल्ली के जेएनयू में एबीवीपी द्वारा बुलाई गई एक सभा का है।
जिसमें खुद को एक जाने-माने पत्रकार बता रहे एक शख्स वहां बैठे कुछ लोगों को हिन्दू-मुस्लिम में बांटने के आधार पर भाषण दे रहे हैं।
वह इस दौरान इन लोगों को साल 2013 में मुज़्ज़फरनगर में हुए दंगों की कहानी सुनकर उकसा रहे हैं।

ये लोग इन दंगों पर आधारित एक डॉक्युमंट्री मुज़्ज़फरनगर आखिर क्यों की प्रमोशन करते हुए कह रहे हैं की उन दंगों में मुस्लिम लोगों के मारे जाने की बात सभी करते हैं लेकिन उनमें मारे गए हिन्दुओं का जिक्र कोई नहीं करता।

भाषण दे रहे शख्स का कहना है की सब अच्छी तरह से जानते हैं की दंगों के तीन कारण है: लड़कियों से छेड़छाड़ , गोकशी और भारत-पाकिस्तान का मैच। हिन्दू गाय को माँ के समान पूजते हैं।

आप उसे मारेंगे तो दंगे ही होंगे। उनका कहना है की हमने अपनी डॉक्यूमेंट्री में हिन्दुओं और उनकी बेटियों के साथ जो हुआ वो दिखाया। क्यूंकि बाकी मीडिया ने तो सिर्फ मुसलमानों का राग अलापा था।

TOPPOPULARRECENT