Thursday , August 24 2017
Home / Delhi News / दिल्ली: मेनका गाँधी की शह पर NGO कार्यकर्ता बने गौरक्षक, भैंस लेकर जा रहे 3 लोगों को बुरी तरह पीटा

दिल्ली: मेनका गाँधी की शह पर NGO कार्यकर्ता बने गौरक्षक, भैंस लेकर जा रहे 3 लोगों को बुरी तरह पीटा

गौरक्षकों की गुंडागर्दी लगातार बढ़ती जा रही है। अब जानवरों की रक्षा के नाम पर दूसरे संगठन भी इंसानों के खून के प्यासे हो रहे हैं। ऐसा ही एक मामला शनिवार की रात दिल्ली में पेश आया जहां भैंसों को ले जा रहे तीन लोगों की बेरहमी से पिटाई की गई है।

यह घटना साउथ दिल्ली में कालकाजी इलाके की है। वहीँ, तीनों की पिटाई का आरोप जानवरों की रक्षा करने एनजीओ PFA के लोगों पर लगा है।

पुलिस उन लोगों ने पूछताछ कर रही है जो कथित तौर पर उन भैंसों को गुड़गांव से गाजीपुर लेकर जा रहे थे। उन भैंसों को काटने के लिए जे जाया जा रहा था।

वहीँ, पिटाई में जख्मी लोगों को ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस में इलाज के लिए लेकर जाया गया। हालांकि पुलिस ने अब तक इस मामले में कोई मामला दर्ज नहीं किया है। पुलिस के मुताबिक उन्हें कोई शिकायत नहीं मिली है

पुलिस के मुताबिक, इस हमले में NGO PFA के लोग शामिल थे। NGO PFA जाना माना गैर सरकारी संस्थान है। ये एनजीओ केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी का है।

हालांकि, संगठन ने कहा है कि वे लोग उनसे जुड़े हुए नहीं हैं। जिन कार्यकर्ताओं पर पिटाई का आरोप है, उन्होंने किसी भी तरह की हिंसा से इंकार किया है। उनमें से एक के मुताबिक, उन्होंने तो पुलिस कंट्रोल रूम को फोन किया था।

TOPPOPULARRECENT