Monday , September 25 2017
Home / Uttar Pradesh / निठारी कांड: रेप व हत्या की कोशिश में सुरेंद्र कोली और मनिंदर सिंह पंधेर दोषी करार

निठारी कांड: रेप व हत्या की कोशिश में सुरेंद्र कोली और मनिंदर सिंह पंधेर दोषी करार

गाजियाबाद। मानवता को शर्मसार कर देने वाले निठारी कांड के आरोपी सुरेंद्र कोली और मनिंदर सिंह पंधेर को आज गाजियाबाद कोर्ट ने दोषी करार दिया है। कोर्ट ने उन्हें बलात्कार और हत्या की कोशिश का आरोपी पाया है। सोमवार को उनकी सजा की घोषणा की जाएगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

बता दें कि निठारी कांड से जुड़े 6 मामले में सीबीआई कोर्ट ने सुरेंद्र कोली को दोषी करार देते हुए फांसी की सजा सुनाई है। हालांकि, वर्ष 2015 में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक मामले में उसकी फांसी की सजा को उम्रकैद में बदल दिया था।

बता दें कि 31 अक्टूबर 2006 को एक लड़की अचानक गायब हो गई थी। इसके बाद पूरे निठारी मामले का खुलासा हुआ था। जिसमें ज्योति, पुष्पा विश्वास, नंदा देवी, पायल, रचना, हर्ष, निशा, रंपा हलधर, सत्येंद्र, दिपाली, आरती, पायल, पिंकी सरकार, अंजलि, सोनी, शेख रजा खान और बीना की हत्या की गई थी।

प्रारंभिक जांच में पता चला था कि 20 जून, 2005 को 8 साल की एक बच्ची ज्योति के निठारी इलाके से गायब होने के बाद से बच्चियों-लड़कियों के गायब होने का सिलसिला शुरू हो गया था। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस के विभिन्न टीमों ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र सहित देश के कई क्षेत्रों में तलाशी अभियान चलाया। लेकिन कोई पता नहीं मिला।

सात मई 2006 को 21 साल की लड़की पायल जब गायब हुई तो पुलिस को अहम सुराग उसके मोबाइल से मिला। पुलिस ने इस नंबर की कॉल डिटेल निकलवाई। इसके बाद जब इसमें से एक नंबर पर कॉल किया गया तो उसका नाम मनिंदर सिंह पंधेर का था। इसके बाद जब सख्ती से पूछताछ हुई तो पता चला कि कई लड़कियों और बच्चियों के साथ रेप के बाद उन्हें मार कर पंधेर के घर में दफन कर दिया गया था।

TOPPOPULARRECENT