Friday , October 20 2017
Home / Assam / West Bengal / “केवल RSS ही हिंदू को एकजुट कर सकता है”

“केवल RSS ही हिंदू को एकजुट कर सकता है”

दिसपुर: आरएसएस से शिक्षा प्राप्त कर चुके चाय बोर्ड के नये नियुक्त अधयक्ष प्रभात कमल बेजबरुआ ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को कई कोने, मीडिया का एक हिस्सा सहित नापसंद कर सकते हैं, लेकिन यह आरएसएस ही है जो देश को आगे बढ़ाने में मदद करने के लिए हिंदूओं में एकता ला सकता है, उन्होंने रविवार को असम में “जनसांख्यिकीय आक्रमण का विरोध” करने के लिए बांग्लादेशी घुसपैठियों को बेदखल करने के लिए भी कहा।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

बेजबरुआ, एक चाय बागान का मालिक जिसे 5 मई को चाय बोर्ड का अध्यक्ष चुना गया। वह असम, नागालैंड और मेघालय में आरएसएस के स्वयंसेवक के लिए प्रशिक्षण शिविर में भाग ले रहे हैं। केंद्रीय असम में होजई, गुवाहाटी से करीब 140 किमी दूर है, जहां राष्ट्रीय उद्यान के उत्तर क्षेत्र में आरएसएस का सबसे महत्वपूर्ण प्रशिक्षण केंद्र है। 20-दिवसीय शिविर के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए, बेज़बरुआ ने कहा, कि “हमारे पास हिंदू एकता नहीं था यही कारण है कि हम पर लगभग 1,000 वर्षों तक मुस्लिम नवाबों-राजाओं और लगभग 200 वर्षों तक अंग्रेजों ने शासन किया। ”

इन्डियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार किसी दुसरे देश के बसने को लेकर जनसांख्यिकीय बदलाव के बारे में चिंता व्यक्त करते हुए, बेज़बरुआ ने सुझाव दिया कि इन बसने वालों का बहिष्कार किया जाये। “घुसपैठ की वजह से असम में एक गंभीर जनसांख्यिकीय परिवर्तन हो रहा है। इन घुसपैठियों ने असम और उसके लोगों को खा लिया है, यह रोकने का एकमात्र तरीका है कि इन लोगों को नागरिकता से वंचित किया जाए। क्योंकि अगर असम खो जाता है, तो अन्य पूर्वोत्तर राज्यों को भी इसका गंभीर परिणाम भुगतना पड़ेगा ।

TOPPOPULARRECENT