Wednesday , June 28 2017
Home / Khaas Khabar / इलाहाबाद: हाईकोर्ट का आदेश, 3 महीने में बंद हुए बूचड़खानों को फिर से चालू कराया जाए

इलाहाबाद: हाईकोर्ट का आदेश, 3 महीने में बंद हुए बूचड़खानों को फिर से चालू कराया जाए

उत्तर प्रदेश में बूचड़खानों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई के बाद अब हाईकोर्ट ने इलाहाबाद के दो बूचड़खानों को तीन महीने के अन्दर खोलने का आदेश दिया है।

ख़बर के मुताबिक़, बूचड़खानों को खोलने को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी। जिस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि राज्य सरकार और निगम तीन महीने के भीतर सभी मानकों को पूरा करने वाले शहर के बूचड़खाने चालू कराए।

याचिका में नगरपालिका द्वारा बंद किए गए इलाहाबाद का इटाला और ईदगाह बूचड़खाना खोले जाने की मांग की गई थी। याचिका मोहम्मद इलियास कुरैशी और अन्य कईयों की ओर से दाखिल की गई थी।

आवेदन में कहा गया था कि निगम द्वारा दोनों बूचड़खानों को अवैध बताकर बंद कर दिया गया था, जबकि बूचड़खाने की वजह से प्रदूषण की जो समस्या है, उसे दूर करने की जिम्मेदारी खुद नगर निगम की है।

याचिका में घरेलू लाइसेंस पर मांस निर्यात करने पर भी आपत्ति जताई गई। साथ ही अदालत को यह भी जानकारी दी गई कि राज्य सरकार ने बूचड़खानों के नवीनीकरण के लिए 335 करोड़ का बजट मई 2016 में जारी किया था, लेकिन निगम ने इस बजट का भी समय पर इस्तेमाल नहीं किया।

 

Top Stories

TOPPOPULARRECENT