Wednesday , August 16 2017
Home / India / OROP की लड़ाई जारी: मांग का पूरा न होना , साबिक़ फौजियों के तमगे वापस करने की वजह

OROP की लड़ाई जारी: मांग का पूरा न होना , साबिक़ फौजियों के तमगे वापस करने की वजह

warveterans_6

 

नई दिल्ली : ‘एक ओहदा एक पेंशन’  लागू करने के लिए हुकूमत कि तरफ से जारी किये गए नोटिफिकेशन के खिलाफ़ एहतेजाज करते हुए, साबिक़ फौज़ी मंगल के रोज़ से अपने तमगे लौटाना शुरू करेंगे | साबिक़ फौजियों ने हुकूमत के इस नोटिफिकेशन को ख़ारिज करते हुए, वज़ीर दिफ़ा  मनोहर पर्रिकर के उस  बयान कि भी मजम्मत की है जिसमें उन्होंने कहा था कि, सारी मांगों को पूरा नहीं किया जा सकता है |

हमारी सिर्फ एक मांग है ‘एक ओहदा एक पेंशन’  | हुकूमत ने इसमें शराईत जोड़ते  हुए इस मामले को और पेचीदा बना दिया है | हम वजाहत के मुताबिक़ ‘एक ओहदा एक पेंशन’  चाहते हैं | किसी जूनियर को उसके सीनियर से ज्यादा पेंशन नहीं मिलनी चाहिए |

इंडियन एक्स-सर्विसमेन मूवमेंट (आईईएसएम) के जनरल सेक्रेटरी  ग्रुप कैप्टन वीके गांधी (रिटायर्ड ) ने कहा  हुकूमत कि तरफ से जारी किये गए नोटिफिकेशन के खिलाफ हम मंगल के रोज़  से अपने तमगे  लौटाना शुरू करेंगे। पूरे मुल्क में साबिक़ फ़ौजी 10-11 नवंबर को  अपने तमगे  लौटाना शुरू करेंगे’’। उन्होंने इस बारे में ज़िला मजिस्ट्रेट को मुत्तला कर  दिया है |

हुकूमत  ने हफ्ते के रोज़  24 लाख से अधिक साबिक़ फौजियों  और छह लाख फौजियों  की बेवाओं  के लिए ओआरओपी स्कीम का बज़ाब्ता तौर पर ऐलान किया था, जिसे एह्तेजाज कर रहे साबिक़ फौजियों ने ख़ारिज कर दिया |

पर्रिकर ने इससे पहले ये कहा था कि जम्हूरियत  में सभी को अपनी मांग रखने का हक़ है, लेकिन सारी मांगों को पूरा नहीं किया जा सकता है । उन्होंने कहा कि साबिक़ फौजियों की ज़्यादातर मांगों को पूरा कर लिया गया है। उन्होंने ये भी  कहा कि हुकूमत कि तरफ से एक अदालती कमीशन मुकर्रर किया जायेगा जो साबिक़ फौजियों के मसाइल की देखरेख करेगा|

गांधी ने कहा कि, दिल्ली में मंगल के रोज़,  इंदिरा गांधी इन्टरनेशनल एअरपोर्ट के टर्मिनल-1 के बाहर तमगे  लौटाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि भीड़भाड़ वाली जगहों को चुनने का फैसला इस लिए लिया गया है जिससे कि आम लोगों को इस मुद्दे के बारे में बताया जा सके |

एहतेजाज कर रहे साबिक़ फौजियों ने कल दिल्ली के वज़ीर आला अरविन्द केजरीवाल  से मुलाक़ात की और मुख्तसर तौर पर OROP नोटिफिकेशन के बारे में बताया |

केजरीवाल से मुलाक़ात के बाद गाँधी ने बताया कि “ उन्होंने हमें बुलाया और हमसे  OROP नोटिफिकेशन के बारे बातचीत की| उन्होंने कहा कि, वो आने वाले दिनों में इस मुद्दे पर एक प्रेस कांफ्रेस करेंगे और जंतर मंतर पर एहतेजाज कर रहे साबिक़ फौजियों से भी मुलाक़ात करेंगे |

TOPPOPULARRECENT